उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले की घटना ने एक बार फिर से सबको शर्मसार कर दिया है। जिले के असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गांव में बुधवार रात तीन नाबालिग दलित लड़कियां खेत में दुपट्टे से बंधी पड़ी मिलीं। इनमें दो लड़कियों की मौत हो चुकी थी जबकि तीसरी अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। इस घटना के बाद सकते में आई पुलिस प्रशासन ने घटनास्थल को कब्जे में ले लिया है। इसके साथ ही पीड़ित परिवार को नजर बंद कर दिया है और किसी को भी बात करने की अनुमति नहीं है। पुलिस ने प्रथम दृष्ट्या में जहरीला पदार्थ खाने से हालत बिगड़ने की आशंका जताई है। फिलहाल पुलिस ने मौके पर मौजूद लोगों के बयान दर्ज किए हैं और मामले की गहराई से जांच में जुट गई है। उधर, इस मामले को लेकर विपक्ष लगातार प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साध रहा है।

मृतक बच्चियों के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं

उन्नाव के एसपी ने बताया कि शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले। हम मामले की जांच के लिए 6 टीमें गठित की गई हैं।

4 डॉक्टरों का पैनल करेगा पोस्टमार्टम

दोनों नाबालिग लड़कियों के शव मोर्चरी में। 4 डॉक्टरों का पैनल 11 बजे शुरू करेंगे पोस्टमार्टम। पोस्टमार्टम हाउस पर भारी फोर्स तैनात।

चार युवकों को उठाकर पुलिस कर रही पूछताछ

संदिग्ध हालातों में दो किशोरियों की मौत के बाद सकते में आई पुलिस प्रशासन ने देर रात तक असोहा के बाबूरहा गांव में डटी रही। बगल के गांव से 4 लड़कों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *