बिहार में शराबबंदी के बावजूद भी शराब तस्करी की खबर आए दिन आती रहती हैं। नीतीश सरकार ने ऐसे लोगों पर शिकंजा कसने के लिए नया आदेश जारी किया है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऑर्डर दिया है कि अवैध शराब के धँधे में शामिल लोगों के नाम उनकी सजा समेत चौराहों पर प्रदर्शित किया जाए। ऑर्डर देते हुए उन्होंने कहा है कि अवैध शराब के धंधे में शामिल लोगों को डर का रहना चाहिए।

 उन्होंने सोमवार को निषेध, आबकारी और पंजीकरण विभाग की कामकाज की समीक्षा में यह आदेश जारी किया। इसके अलावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को यह निर्देश भी दिया कि अगर कोई पुलिसकर्मी शराब पीता हुआ पकड़ा जाए तो उसे तत्काल निलंबित किया जाए। 

नीतीश कुमार ने कहा कि पुलिस कर्मियों ने शराब न पीने की शपथ ली है और ऐसा करने वालों को तत्काल निलंबित किया जाना चाहिए।

एक्साइज जनरल और इन्सपेक्टर जनरल बी कार्तिकेय धनजी ने मीटिंग में शराब की बरामदगी, छापे और जब्त शराब स्टॉक को नष्ट करने पर एक प्रस्तुतिव भी दी।

बिहार में 2016 में शराब पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *