सूबे की सियासत में अब राजनैतिक आरोप-प्रत्यारोप निजी तौर पर बदल चुका है। समय के साथ नेताओं की भी भाषा शैली में भी परिवर्तन हुआ है। बात इतनी आगे तक जा चुकी है कि, नेता अब किसी संवैधानिक पद पर आसीन मंत्री को भी नही छोड़ रहे हैं। बता दे कि, पूर्व सरकार में मंत्री रह चुके जीतू पटवारी ने तत्कालीन सरकार में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र को माफिया राज और ज़हरीली शराब से मौत के मामले में घेरते हुए निजी तौर पर चले गए और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को चलता-फिरता ब्यूटी पार्लर कह डाला।

आपको बता दें कि, पिछले कई महीनों से सूबे में रह-रहकर जहरीली शराब से मौतें हो रही हैं। पहले मुरैना तो अब छतरपुर में जहरीली शराब से मौत ने तांडव किया। जीतू पटवारी ने पूरी सरकार को घेरा और कहा कि, सीएम शिवराज सिंह चौहान एक साल के अंदर माफिया के बारे में 500 बार बयान दे चुके हैं। लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं हो रही। प्रदेश में फिर से बीजेपी के सत्ता में आने के बाद से अपहरण माफिया सक्रिय हो गया है। उदयपुरा के विधायक के बेटे को अपहरण करने की धमकी मिल रही है। प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। जब सरकार से सम्बंधित लोगों का ये हाल है तो आम जनता की क्या स्थिति होगी। मैं आपको बता रहा हूँ कि पूरे प्रदेश में माफिया राज हावी है।

इसके बाद जीतू पटवारी ने प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को निशाने पर लेते हुए कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन औसतन 137 महिलाओं के साथ कोई न कोई घटना घटी है लेकिन गृहमंत्री को फ़िल्मी बहन कंगना की रक्षा करने में पूरी फौज लगा देते हैं। साथ ही गृहमंत्री के रोज प्रेस कांफ्रेंस करने पर भी निशाना साधते हुए जीतू पटवारी ने कहा गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को तीन पत्रकार घेर कर रखते हैं। ये वही पत्रकार है जो मिश्रा को मीडिया में बोलने का मंत्र सिखाते रहते हैं। साथ ही प्रदेश के गृहमंत्री नियमित दो घण्टा खुद को संवारने में खर्च कर देते हैं, नरोत्तम मिश्रा चलते-फिरते ब्यूटी पार्लर हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *