उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग की तरफ से स्कूलों की मान्यता देने में अब पैसे का खेल नहीं होगा। विभाग की तरफ से निजी स्कूलों को मान्यता अब ऑनलाइन होगी। सब ठीक रहा तो आवेदन करने के 37 दिन के अंदर मान्यता मिल जाएगी। आवेदन एक अप्रैल से 31 दिसंबर के बीच किया जाएगा।

जानकारी ने अनुसार स्कूलों को ऑनलाइन मान्यता दिए जाने को शासन की तरफ से नए पोर्टल की शुरुआत की है। बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने बेसिक शिक्षा विभाग के तहत निजी विद्यालयों की मान्यता के लिए ऑनलाइन विद्यालय मान्यता प्रणाली पोर्टल का शुभारंभ कर दिया है। बेसिक शिक्षा विभाग के तहत मान्यता ऑनलाइन करने का प्रावधान किया है। मान्यता के प्रकरण को जनहित गारंटी योजना के तहत शामिल किया है। इसमें पूरी प्रक्रिया निर्धारित समय में पूर्ण करने का प्रावधान है।

शर्तों के आधार पर स्कूल का भौतिक सत्यापन

निजी स्कूलों को मान्यता एवं नवीनीकरण आवेदन के साथ स्कूल भवन, स्टाफ तथा संसाधनों का ब्योरा देना होगा। तय मापदंड के आधार पर भौतिक सत्यापन कराकर निजी स्कूल संचालित करने की मान्यता दी जाएगी। मान्यता नवीनीकरण के लिए भी निजी स्कूल संचालकों को शर्तों पर खरा उतरना होगा।

शासन की तरफ से निजी स्कूलों को मान्यता देने की प्रकिया में बदलाव किया है। अब ऑनलाइन आवेदन करना होगा। टीम के माध्यम से जांच के बाद प्रबंधन को मान्यता दी जाएगी। ये प्रकिया नए सत्र से शुरू होगीउपाध्याय, जिला डायट प्राचार्य और कार्यकारी बेसिक शिक्षा अधिकारी

टीम स्कूलों में जाकर करेगी निरीक्षण


बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पोर्टल पर प्रबंधन की तरफ से आवेदन प्राप्त होने पर बीएसए तीन कार्य दिवस में उसे खंड शिक्षा अधिकारी को स्कूल के निरीक्षण के लिए भेजेंगे। निरीक्षण का निर्देश मिलने के 10 दिन के अंदर खंड शिक्षा अधिकारी स्कूल का मुआयना कर अपनी निरीक्षण रिपोर्ट बीएसए को सौंपेंगे। मान्यता समिति की बैठक होगी। आपत्ति की स्थिति में बैठक के तीन दिन के अंदर स्कूल के प्रबंधन को इसकी सूचना देगी। आपत्ति के सात दिन के अंदर प्रबंधन को उसका निराकरण करना होगा। आपत्ति के बारे में स्कूल प्रबंधन का जवाब मिलने के पांच दिनों के अंदर समिति निर्णय लेगी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *