चेन्नई टेस्ट में टीम इंडिया ने अपनी पकड़ और मजबूत कर ली है। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड ने 3 विकेट के नुकसान पर 53 रन बना लिए हैं।कप्तान विराट कोहली के अर्धशतक और रविचंद्रन अश्विन के पांचवें टेस्ट शतक के दम पर भारत ने इंग्लैंड के सामने 482 रन का विशाल लक्ष्य रखा है। इस मैच को जीतने के लिए मेहमानों के पास दो दिन से ज्यादा का वक्त है और इस दौरान उन्हें जीत के लिए 429 रन बनाने हैं। ऐसे में चेपक की टर्न होती पिच पर इंग्लैंड के सामने भारतीय स्पिनर्स बड़ी चुनौती हैं।

अश्विन का शतक, कोहली का अर्धशतक

इससे पूर्व भारत की दूसरी पारी 286 रनों पर सिमटी। भारत की ओर से ऑफ स्पिनर अश्विन ने अपने टेस्ट करियर का 5वां टेस्ट शतक जड़ा। अश्विन के अलावा भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी इस पारी में शानदार अर्धशतक लगाया। कोहली-अश्विन के बीच सातवें विकेट के लिए 96 रन की साझेदारी हुई। इस साझेदारी के चलते भारत का स्कोर 250 के पार पहुंचा।

स्पिनर्स का रहा दबदबा

इंग्लैंड की तरफ से स्पिनर मोईन अली और जैक लीच ने दूसरी पारी में 4-4 विकेट झटके। इन दोनों स्पिनर्स ने भारतीय गेंदबाजों को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया। चेपक की टर्न होती पिच पर दोनों टीमों के स्पिनर्स का जलवा कायम रहा। तीसरे दिन का खेल खत्म होते तक कुल 25 विकेट इस मैच में स्पिन गेंदबाजों ने लिए हैं।

इंग्लैंड की खराब शुरुआत

482 के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की शुरुआत काफी ख़राब रही। ओपनर सिबली अक्षर पटेल का शिकार बने और 3 रन के स्कोर पर पगबाधा आउट हुए। इसके बाद बर्न्स और लॉरेंस के बीच 32 रनों की साझेदारी हुई। बर्न्स के आउट होने के बाद नाईट वॉचमैन के रूप में भेजे गए जैक लीच खाता तक नहीं खोल सके और अक्षर पटेल का शिकार बने। तीसरे दिन के अंत तक इंग्लैंड ने कुल 19 ओवर खेले, और 3 विकेट पर 53 रन बना लिए हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *