दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी टूलकिट सोशल मीडिया पर शेयर करने में संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार हुईं दिशा रवि के समर्थन में आ गए हैं। सोमवार को अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया है कि एक 21 साल की लड़की को गिरफ्तार करना लोकतंत्र पर हमला करने जैसा है। बता दें कि बेंगलुरु से गिरफ्तार हुईं दिशा रवि फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

दिल्ली के सीएम ने ट्वीट किया, ’21 साल की दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर बड़ा हमला है। हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं है।’

दिशा रवि पर आरोप है कि उन्होंने किसानों से जुड़ी टूलकिट में बदलाव करते हुए कुछ चीजें जोड़ी और फॉरवर्ड कर दिया। जब ग्रेटा थनबर्ग ने टूलकिट शेयर किया, तब दिशा रवि ने ही ग्रेटा को चेताया था कि टूलकिट सार्वजनिक हो गया है। बाद में ग्रेटा ने इसे डिलीट कर दिया और फिर इसका एडिटेड वर्जन शेयर किया था।

कांग्रेस ने भी किया गिरफ्तारी का विरोध
कांग्रेस ने दिशा रवि की गिरफ्तारी का विरोध किया है। कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘भारत बेतुका रंगमंच बन रहा है और यह दुखद है कि दिल्ली पुलिस उत्पीड़कों का औजार बन गई है। मैं दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करता हूं और सभी छात्रों और युवाओं से आग्रह करता हूं कि वे निरंकुश शासन के खिलाफ आवाज उठाएं।’ पी. चिदंबरम ने एक और ट्वीट कर तंज कसा कि भारत के लिए चीन की घुसपैठ से ज्यादा खतरनाक एक टूलकिट है। उन्होंने लिखा, ‘यदि माउंट कार्मेल कॉलेज की 22 वर्षीया छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि देश के लिए खतरा बन गई है, तो भारत बहुत ही कमजोर बुनियाद पर खड़ा है।चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की तुलना में किसानों के विरोध का समर्थन करने के लिए लाया गया एक टूक किट अधिक खतरनाक है!’ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने भी दिशा की गिरफ्तारी का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि यह पूर्ण रूप से अत्याचार है, यह अनुचित उत्पीड़न और धमकी है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *