चीन और पाकिस्तान के साथ दोनों मोर्चों पर तनाव के बीच भारतीय सेना की ताकत बढ़ेगी। रविवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के मुख्य युद्धक टैंक अर्जुन मार्क 1 ए को राष्ट्र को समर्पित किया। तमिलनाडु और केरल के दौरे पर पीएम मोदी ने स्वदेशी अर्जुन मेन बैटल टैंक (एमके-1ए) चेन्नई में सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे को सौंपा। माना जा रहा है कि अर्जुन टैंक के सेना में शामिल होने से रक्षा क्षेत्र में मेक इन इंडिया के प्रयासों को भी बढ़ावा मिलेगा।

8 हजार 400 करोड़ रुपये की कीमत वाले इस टैंक को पूरी तरह भारत में बनाया गया है। ये 118 टैंक सेना के पहले बैच में शामिल होंगे। अर्जुन श्रेणी के काफी टैंक पहले ही पश्चिम रेगिस्तान में पाकिस्तान बॉर्डर पर तैनात हैं। इन 118 अर्जुन टैंक से सेना में बख्तरबंद कोर में दो रेजिमेंट बनाई जाएगी। 

डीआरडीओ पिछले कुछ समय से अर्जुन मार्क 1 ए युद्धक टैंक का विकास कर रहा है। इस टैंक का डिजाइन डीआरडीओ के लड़ाकू वाहन अनुसंधान और विकास प्रतिष्ठान (सीवीआरडीई) ने तैयार किया है। करीब ढाई साल पहले अर्जुन टैंक ने नए संस्करणों की सप्लाई के लिए कांट्रेक्ट साइन किया गया था। इन्हीं में से 5 टैंक रविवार को पीएम के हाथों सेना के सुपुर्द किए जाने थे।

इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने इस दौरे पर चेन्नई मेट्रो रेल परियोजना के पहले चरण का शुभारंभ किया। इस विस्तारित परियोजना को पूरा करने में 3,770 करोड़ रुपये की लागत आई है। यह उत्तरी चेन्नई को हवाईअड्डे तथा रेलवे स्टेशन से जोड़ेगी। इसके अलावा, प्रधानमंत्री ने चेन्नई समुद्र तट और अट्टीपट्टू के बीच चौथी रेल लाइन का भी उद्घाटन किया। बता दें कि तमिलनाडु और केरल में इस अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होना है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *