भारतीय समुद्री शिखर सम्मेलन (एमआईएस) का दूसरा संस्करण 2 मार्च से 4 मार्च 2021 तक  आयोजित किया जा रहा है जिसमें 24 साथी देशों के लगभग 20,000 प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे और 400 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स का प्रदर्शन किया जाएगा। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 2 मार्च को भारतीय समुद्री शिखर सम्मेलन-2021 का उद्घाटन करेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय (एमओपीएसडब्ल्यू) ने औद्योगिक साझेदार के रूप में फिक्की और ज्ञान साझेदार के रूप में ईवाई के साथ मिलकर किया है।

राष्ट्रीय मीडिया केंद्र में एक लोकार्पण प्रेस-कॉन्फ्रेंस के दौरान आज केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री श्री मनसुख मांडविया ने कहा कि भारतीय समुद्री शिखर सम्मेलन अन्तर्राष्ट्रीय सहयोग के लिए मजबूत मंच उपलब्ध करवाएगा और साझेदार देशों को ज्ञान और अवसरों के आपसी आदान-प्रदान के लिए साथ लेकर आएगा। 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001ORGS.jpg

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान श्री मनसुख मांडविया और वरिष्ठ अधिकारियों ने एमआईएस-2021 के लिए एक ब्रोशर और www.maritimeindiasummit.in वेबसाइट भी लॉन्च की। कोविड-19 महामारी के कारण यह पूरा सम्मेलन वर्चुअल प्लेटफॉर्म www.maritimeindiasummit.inपर होगा।आगंतुकों और प्रदर्शकों के लिए इसका रजिस्ट्रेशन आज लॉन्च के साथ शुरू हो गया है।

पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय के सचिव डॉ. संजीव रंजन ने बजट 2021-22 की पत्तन, पोत परिवहन और समुद्री क्षेत्र से जुड़ी  घोषणाओं को संक्षिप्त में बताया और उन्हें आत्म निर्भर भारत के प्रचार के लिए पथप्रदर्शक पहल बताया। डॉ. रंजन ने कहा, ‘बीते कल संसद में प्रमुख बंदरगाह प्राधिकरण विधेयक 2020 के पास होने के साथ ही बड़ी संख्या में नए अवसरों के द्वारखुलेंगे।’

एमआईएस 2021 एक विशिष्ट मंच उपलब्ध कराएगा जिसमें दुनियाभर के प्रमुख जहाजरानी और परिवहन मंत्री/उच्च अधिकारी शारीरिक रूप से और वर्चुअली मौजूद होंगे। भारत के समुद्र से सटे राज्य इसके विशेष सत्रों में भाग लेंगे। इस शिखर सम्मेलन में एक विशेष सीईओ फोरम और विभिन्न विषय/ब्रेकआउट सत्र भी शामिल किए जाएंगे।

एमआईएस-2021 की अधिक जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर जा सकते हैः www.maritimeindiasummit.in

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *