वैक्सीनेशन के मामले में गुरुवार 11 फरवरी को यूपी एक और कीर्तिमान गढ़ने की तैयारी में है। गुरुवार को प्रदेश के 200 टीकाकरण सत्रों में दो लाख से अधिक लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। कल के टीकाकरण अभियान में हेल्थ केयर वर्कर्स के साथ फ्रंट लाइन वर्कर्स को भी टीके लगाए जाएंगे। 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यूपी में टीकाकरण के लिए निर्धारित दिन गुरुवार एवं शुक्रवार का यह दूसरा चरण होगा। बीते  गुरुवार एवं शुक्रवार अर्थात 4-व 5 फरवरी को हुए टीकाकरण अभियान में पूरे प्रदेश में 2.45 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंट लाइन वर्कर का कोविड टीकाकरण किया गया था। 
    
गुरुवार 11 फरवरी को दो लाख से अधिक टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके तहत देर शाम तक व्यापक तैयारियां की गई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अधिकारियों ने बताया कि पिछले सप्ताह 4 और 5 फरवरी को दो दिवसीय टीकाकरण अभियान में कुल 2,352 टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया गया था। 

गुरुवार को एक दिन में ही दो हजार से अधिक सत्र आयोजित किए जाएंग, जबकि शुक्रवार को होने वाले टीकाकरण के लिए कल लक्ष्य निर्धारित किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि अन्य टीकों की भांति इस टीके के कुछ लाभार्थियों को एक-दो दिन का सामान्य बुखार या अन्य मामूली स्वास्थ्यगत समस्याएं हो सकती हैं, जो स्वतः ही ठीक हो जाती हैं। 

पूर्व में हुए टीकाकरण के सभी लाभार्थी अब स्वस्थ हैं। हेल्थ वर्कर और फ्रंट लाइन वर्कर को  इस जानलेवा वैश्विक महामारी से बचाव के लिए अपनी बारी आने पर अपना टीकाकरण अवश्य कराना चाहिए। टीकाकरण संबंधी किसी भी समस्या के लिए राज्य हेल्पलाइन नम्बर- 104 और राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर-1075 पर सम्पर्क किया जा सकता है

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *