तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव ने प्रदर्शनकारियों के एक समूह की कुत्तों से तुलना करते हुए एक बयान दिया है। उनकी इस टिप्पणी पर विवाद छिड़ गया है और भविष्य में सूबे की राजनीति इस मुद्दे पर गर्मा सकती है। एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान के. चंद्रशेखर राव ने यह टिप्पणी की थी, जिस पर विपक्षी दल उनसे माफी की मांग कर रहे हैं। नालगोंडा जिले के नागार्जुन सागर इलाके का यह मामला है। यहां एक सरकारी स्कीम के शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान जब सीएम संबोधित कर रहे थे तो कुछ लोग उन्हें ज्ञापन देना चाहते थे। इनमें महिलाएं भी शामिल थीं। इसकी अनुमति न मिलने पर लोग प्रदर्शन करने लगे थे।

इस प्रदर्शन पर बिफरे सीएम ने उनकी तुलना कुत्तों से कर दी।सीएम के. चंद्रशेखर राव ने कहा, ‘अब आपने अपना ज्ञापन दे दिया है और यहां से निकल जाएं। यदि आप यहां रुकना चाहते हैं तो फिर शांति बनाए रखें। आपकी बेहूदा हरकतों से कोई भी यहां डिस्टर्ब नहीं होगा। आप यहां बेवजह पीटे जाएंगे। अम्मा आप जैसे बहुत से कुत्ते देखे हैं। यहां से चले जाओ।

‘सीएम के. चंद्रशेखर राव की इस टिप्पणी पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मणिक्कम टैगोर ने उनकी आलोचना की है और माफी की मांग की है। टैगोर ने कहा, ‘तेलंगाना के सीएम ने प्रदर्शनकारी महिलाओं की तुलना कुत्तों से की है। यह न भूलें कि यह लोकतंत्र है और आप यहां इसलिए बैठे हैं क्योंकि महिलाएं यहां खड़ी हैं। वे हमारी बॉस हैं। के. चंद्रशेखर को इस पर माफी मांगनी चाहिए।

‘सीएम की इस टिप्पणी पर बीजेपी लीडर और प्रवक्ता कृष्ण सागर राव ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सीएम को इस पर माफी मांगनी होगी। यही नहीं सीएम की इस टिप्पणी को उन्होंने बीजेपी और हिंदुओं के अपमान से जोड़ दिया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *