नई दिल्‍ली: भारत में कोरोना के दो टीकों को हरी झंडी मिल चुकी है और 16 जनवरी से यह लोगों को लगने भी आरंभ हो चुके हैं। मोदी सरकार ने जनवरी में विश्व के कई देशों को लगभग 10.5 मिलियन टीके भी दिए हैं, जिसमें से 6.3 मिलियन मित्र देशों को मैत्री आधार पर भेजे गए हैं भारत सरकार ने फरवरी में कमर्शियल आधार पर 25 देशों को कोविड-19 वैक्सीन की 24 मिलियन खुराक की आपूर्ति को हरी झंडी दे दी है।

सरकार ने बीते महीने कहा था कि विदेश मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों को क‍मर्शियल आधार पर वैक्सीन के निर्यात की मॉनेटरिंग करेगा। भारत ने 20 देशों को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) TV द्वारा तैयार की गई ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की 16.7 मिलियन खुराक की आपूर्ति की है। इसमें बांग्लादेश, म्यांमार, भूटान, नेपाल, अफगानिस्तान, श्रीलंका, बहरीन और ओमान, बारबाडोस और डोमिनिका जैसे 13 देशों में तक़रीबन 6.3 मिलियन खुराक की सप्लाई की गई थी।

ब्राजील, मोरक्को और दक्षिण अफ्रीका समेत सात देशों में क‍मर्शियल आधार पर करीब 10 मिलियन अधिक खुराक की सप्लाई की गई। फरवरी के लिए विदेश मंत्रालय की योजनाओं के मुताबिक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को सऊदी अरब, ब्राजील, मोरक्को, म्यांमार, नेपाल, निकारागुआ, मॉरीशस, फिलीपींस, सर्बिया, यूएई और कतर समेत 25 देशों को क‍मर्शियल आधार पर 24 मिलियन खुराक की आपूर्ति करने के लिए हरी झंडी दे दी गई है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *