फरवरी में पेश हुए बजट के बाद भारत की आर्थिक रफ्तार बढ़ने के साथ साथ मिशन आत्मनिर्भर भारत पर भी काम तेज होगा। वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बजट के बाद अपने विभाग के लिए किए गए ऐलानों को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में पिछले कई महीनों के दौरान छोटे छोटे बजट पेश किए हैं और कई अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए ऐलान किए हैं।

उनके मुताबिक अगले वित्तवर्ष के लिए पेश हुए बजट में मेक इन इंडिया का भी ख्याल रखा गया है। खास तौर पर कई ऐसे ऐलान हुए हैं जिनके जरिए भारत में उत्पादन बढ़ाकर विदेश के बाजारों में बेचने पर कारोबारियों को इंसेंटिव दिया जाएगा। पीयूष गोयल ने कहा आज भारत का पढ़ा लिखा युवा खुद का कुछ काम करना चाहता है। वो बजाए नौकरी ढूढ़ने के खुद नौकरी देने वाला बनना चाहता है। इस सब के लिए बजट में बाकायदा रोडमैप पेश किया गया है जिसका फायदा आने वाले दिनों में देखेगा। उनके मुताबिक वाणिज्य मंत्रालय का काम है कि ये सुनिश्चित हो कि कारोबारियों की मुश्किलें कम हो और देश में नौकरियों के मौके बढ़े। यही वजह है कि पिछले कुछ महीनों में उद्योग जगत के कई प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात करके उनके मुद्दों को सुलझानों का काम किया गया है। वहीं एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए एक्सपोर्टर्स के साथ भी कई दौर की बैठक की गई है और उसका नतीजा भी कारोबार में बढ़त के तौर पर दिखाई दे रहा है।

सरकार उत्पादों की गुणवत्ता को लेकर अपना फोकस बढ़ाने की तैयारी में है। वाणिज्य मंत्री ने कहा हमारी कोशिश होगी की देश के भीतर का उत्पादन हो या फिर एक्सपोर्ट किए जाने वाले उत्पाद हों दोनों की क्वालिटी बेहतर होनी ही चाहिए। उनके मुताबिक उद्योग जगत के साथ इस बारे मे व्यापक चर्चा के बाद इस दिशा में काम हुआ है और आने वाले दिनों में इस दिशा में और प्रयास होने हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *