कासगंज :अवैध शराब की सूचना पर दबिश देने गई पुलिस पर शराब माफिया ने हमला कर दिया। दरोगा सिपाही को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। दोनों को लहूलुहान हालत में छोड़कर सभी फरार हो गए। पुलिस फोर्स ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया। जहां सिपाही की मौत हो गई और दरोगा की हालत गंभीर बनी हुई है। अफसरों के साथ कई थानों की फोर्स हमलावरों की तलाश में जंगलों में उतरी हुई है। घटना पर सीएम योगी ने सख्त रुख अख्तियार करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है।

मंगलवार देर शाम करीब सात बजे सिढ़पुरा थाने से दरोगा अशोक पाल, सिपाही देवेंद्र सिंह को अवैध शराब की खेप की सूचना मिली थी।दरोगा सिपाही दबिश देने पहुंचे तो शराब माफिया ने दोनों पर हमला कर दिया। दोनों को दौड़ा दौड़ाकर मारा गया। उनकी वर्दी फाड़ दी गई। असलहा भी छीन लिया गया

दरोगा को लहूलुहान हालत में देखकर एक ग्रामीण ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पहुंची फोर्स ने उन्हें गाड़ी से उपचार के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। इसके बाद सिपाही की तलाश शुरू की गई। एसपी मनोज कुमार सोनकर ने कई थानों की पुलिस को जंगल में सिपाही की तलाश में लगाया। करीब एक घंटे की तलाश के दौरान काफी दूर जंगल में गंभीर हालत में सिपाही देवेंद्र सिंह पड़ा मिला। हमलावरों ने उसकी भी हालत दरोगा अशोक पाल जैसे ही कर दी थी।सिपाही देवेंद्र सिंह को भी उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। जहां से बेहतर उपचार के लिए अलीगढ़ रेफर किया गया। रास्ते में उसकी मौत हो गई। घटना के बाद मुख्यालय से डीएम चन्द्रप्रकाश सिंह समेत आला अफसर रवाना हो गए। वारदात ने कानपुर के बिकरू कांड का यादें ताजा कर दी हैं। बिकरू में माफिया विकास दुबे के यहां दबिश देने गई पुलिस पर हमला कर दिया गया था। इसमें एक सीओ समेत कई पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *