नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी आज यानी मंगलवार की दोपहर वर्चुअल समिट के माध्यम से एक दूसरे से मुखातिब होंगे. सूत्रों के अनुसार, इस दौरान 286 मिलियन यूएस डॉलर वाले शहतूत डैम प्रोजेक्ट को लेकर दोनों देशों के बीच अनुबंध हो सकता है. सूत्रों के अनुसार, इस बैठक में दोनों देशों के बीच आतंकवाद से निपटने को लेकर रणनीति पर भी मंथन किया जाएगा.

अफगानिस्तान के काबुल में पानी की दिक्कत है. ऐसे में यहां के 2 मिलियन लोगों की आबादी के लिए यह अनुबंध काफी मददगार साबित होगा. काबुल में आबादी बढ़ने के साथ ही पानी के स्रोत में कमी आई है, जिसके कारण यहां के लोगों को पेयजल की समस्या का सामना करना पड़ रहा है. यह दूसरी दफा होगा जब भारत अफगानिस्तान को डैम बनाने में सहायता पहुंचाएगा. इससे पहले भारत ने सलमा डैम बनाने में भी अफगानिस्तान से सहयोग मांगा था.

दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के अलावा भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर और उनके अफगानी समकक्ष मोहम्मद हनीफ अतमर भी उपस्थित रहेंगे. भारत ने हाल ही में अफगानिस्तान को भारत में विकसित कोरोना वैक्सीन दी है. अफगानिस्तान मेड इन इंडिया वैक्सीन पाने वाला 18वां देश है. वैक्सीन को लेकर अफगानी विदेश मंत्री अतमर ने ट्वीट किया था.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *