केंद्रीय पशुपालन एवं मत्स्य राज्यमंत्री डॉ. संजीव बालियान ने कहा है कि किसान आंदोलन का समाधान बहुत जल्द होगा। सरकार किसानों से हर मुद्दे पर वार्ता के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि आम बजट  में भी किसानों के लिए पहले से अधिक प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि अब आंदोलन में किसान कम और नेता ज्यादा हो गए हैं। किसानों के आंदोलन के पीछे विभिन्न दलों के नेता अधिक शामिल हो रहे हैं।

आम बजट को लेकर भाजपा की ओर से केंद्रीय मंत्री ने मीडिया से वार्ता की। उन्होंने कहा कि किसानों के मुद्दे पर सरकार वार्ता के लिए लगातार तैयार है। हर मुद्दे पर किसानों से सरकार वार्ता करने जा रही है। जल्द ही इसका समाधान मिलेगा। उन्होंने बजट को लेकर कहा कि कोरोना काल में बजट काफी कठिन काम था। बावजूद इसके सरकार ने स्वास्थ्य, सड़क और कृषि के क्षेत्र में अधिक बजट उपलब्ध कराया है। आत्मनिर्भर भारत के तहत सरकार काम कर रही है और हर क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रही है। स्वास्थ्य क्षेत्र में 94 हजार करोड़ से बढ़ाकर दो लाख करोड़ का बजट किया गया है। पहले मास्क, सैनिटाइजर का आयात किया जाता था। कोरोना काल के दौरान इसे अवसर में बदला गया। देश ने निर्माण भी किया और निर्यात भी। राशन, पैसे से जनता की मदद की गई। उन्होंने कहा कि आम बजट में सरकार ने हर वर्ग का ध्यान रखा। कृषि क्षेत्र पर भी सरकार का फोकस रहा। करीब एक लाख 52 हजार करोड़ कृषि क्षेत्र के लिए रखा गया। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज सिंह, कांता कर्दम, क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल, सांसद राजेंद्र अग्रवाल, महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, जिलाध्यक्ष अनुज राठी आदि मौजूद रहे।

पानीपत रेल लाइन हुआ शामिल, हस्तिनापुर भी होगा
डॉ बालियान ने कहा कि मेरठ और आसपास के क्षेत्र में रेलवे और हाइवे प्रोजेक्ट को बजट में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि मेरठ के लिए मेरठ-पानीपत रेलवे लाइन प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है। हस्तिनापुर को लेकर उन्होंने कहा हस्तिनापुर भी शामिल होगा। फिलहाल रेलवे के लिए सरकार ने बजट बढ़ाया है। मेरठ के चारो ओर अब हाइवे ही हाइवे होने जा रहे हैं। आने वाले समय में इस क्षेत्र की स्थिति बदल जाएगी।  

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *