उत्तराखंड में ग्‍लेशियर टूटने से मची तबाही में लखीमपुर खीरी जिले के दो सगे भाइयों समेत कुल 26 मजदूरों के लापता होने की सूचना मिल रही है। उत्तराखंड के तपोवन डैम में काम करने गए इन युवकों के परिवार वालों का उनसे पिछले 35 घंंटे से सम्पर्क टूटा हुआ है।

लापता होने वालों में निघासन तहसील के इच्छानगर के 15, भैरमपुर के पांच, हैइसी तहसील के बाबूपूर्वा के पांच और भुलनपुर का एक मजदूर शामिल है। जिला प्रशासन के मुताबिक अब तक 19 लोगों के परिवारों ने उनसे सम्‍पर्क किया है। उत्तराखंड सरकार की ओर से अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। लखीमपुर खीरी के डीएम शैलेन्द्र सिंह ने कानूनगो और लेखपालों को लापता लोगों की सूची बनाने को कहा है।

इससे पहले तिकुनिया के बाबूपुरवा और भुलनपुर के छह लोगों के लापता होने की सूचना मिली थी। प्रशासन ने सोमवार की सुबह तक किसी के लापता होने की पुष्टि नहीं की है। डीएम शैलेंद्र सिंह ने बताया कि एसडीएम की रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ बता सकेंगे। जो सूची तहसील से आएगी, उसको उत्तराखंड सरकार को भेजा जाएगा।

लापता होने वालों में इच्छानगर गांव के जलाल पुत्र इश्तियाक, राजू पुत्र श्रीकेशन, श्रीकेशन पुत्र बदलू, अवधेश पुत्र लालता प्रसाद, मुकेश पुत्र चेतराम, राशिद पुत्र शाहिद खां, जगदीश पुत्र राम प्रसाद, उमेश पुत्र जगदीश, इरशाद पुत्र मो अली,  इरफान पुत्र उस्मान, इस्लाम पुत्र मकबूल खां, राम तीर्थ पुत्र मनोहर लाल, प्रमोद पुत्र बिंद्रा प्रसाद, राम बिलास पुत्र कढिले, शेर बहादुर पुत्र खुशराम के परिवार वालों का उनसे कोई सम्पर्क नहीं हो रहा है। भैरमपुर गांव के संतोष पुत्र राममूर्ति, मनोज पुत्र राममूर्ति, अर्जुन लाल पुत्र व जितेन्द्र पुत्र जगमोहन भी लापता हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *