पाकिस्तान से भारत आए 64 लोगों को यहां की नागरिकता मिला है। इन लोगों का कहना है कि भारत सरकार की इस पहल से उन्हें नया जीवन मिल गया है। दरअसल पाकिस्तान से विस्थापित 64 लोगों को मध्यप्रदेश में इंदौर में भारतीय नागरिकता प्रदान की गई गई है। भारत सरकार के इस पहल से इनकी खुशियों का कोई ठिकाना नहीं रहा। इन लोगों का कहना है कि पाकिस्तान से विस्थापित होकर ये पिछले 13 से इंदौर में रहे थे। उन्होंने अपनी फाइल मध्यप्रदेश के गृह विभाग में लगा रखी थी। गृह विभाग ने मंजूरी मिलते ही उन्हें भारतीय नागरिक बना दिया है। 

जिन लोगों को भारतीय नागरिकता मिली है है उन्हीं में से एक परदीप लाजोमल तलरेजा ने खुशी जताते हुए कहा कि सांसद शंकर लालवानी तथा जिला प्रशासन के सहयोग से उन्हें और उनके परिवार समेत 64 लोगों को नागरिकता प्रमाण-पत्र प्राप्त हो सका।

उन्होंने कहा कि वे लोग पाकिस्तान के सिंद्ध प्रांत में रहते थे। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक अत्याचार का शिकार होने के बाद वे अपने परिवार सहित 13 वर्ष पहले सन 2008 में पाकिस्तान से भारत आ गये। भारत आने के बाद उन्हें केन्द्र सरकार की ओर से शरणार्थी बनाया गया, तभी से वे इंदौर में निवास कर रहे हैं। 

साथ ही उन्होंने बताया कि अपने देश वापस आकर वे बेहद खुश हैं। लेकिन कहीं न कहीं भारतीय नागरिकता न मिल पाने का दुख भी उन्हें पिछले 13 वर्षों से कचोट रहा था। परदीप ने भारत सरकार तथा जिला प्रशासन से मिले सहयोग के लिये आभार प्रकट किया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *