केंद्र के लाए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने शनिवार को देशव्यापी ‘चक्का जाम’ का आह्वान किया। यह चक्का जाम दोपहर 12 से 3 बजे तक के लिए था। देशभर में चक्का जाम की वजह से कई राज्यों की रफ्तार थम गई। हालांकि, सबसे ज्यादा असर हरियाणा और पंजाब में ही देखने को मिला लेकिन बाकी राज्यों में भी मिला-जुला असर देखने को मिला। चक्का जाम शांतिपूर्वक पूरा हुआ और कहीं भी किसी तरह की हिंसा की कोई खबर नहीं मिली। चक्का जाम खत्म होने पर किसान नेता राकेश टिकैत ने सरकार पर आरोप लगाया कि उसे व्यापारियों से ज्यादा लगाव है। उन्होंने एक बार फिर यह कहा कि आंदोलन आगे भी जारी रहेगा। 

चक्का जाम खत्म, टिकैत बोले- किसान आंदोलन जारी रहेगा

चक्का जाम के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित किया और देशभर में आंदोलन जारी रहने की बात एक बार फिर दोहराई। उन्होंने कहा कि सरकार को किसानों से नहीं व्यापारियों से लगाव है। उन्होंने दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कहा कि राजधानी में एक-एक कील काटी जाएगी।

कर्नाटक: किसानों ने बनकापुर टोल पर और टोल के पास नेशनल हाइवे पर चक्का जाम किया

पंजाब चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने अमृतसर-दिल्ली नेशनल हाईवे पर चक्का जाम किया।

तेलंगाना: किसानों के बुलाए ‘चक्का जाम’ के समर्थन में हैदराबाद हाइवे पर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हटाया।

एक लोकतांत्रिक सरकार इस तरह से कैसे काम कर सकती है?: केसी वेणुगोपाल

किसान 71 दिनों से सड़कों पर हैं, वे संघर्ष कर रहे हैं। एक तरफ, सरकार बातचीत के लिए तैयार है, जबकि दूसरी ओर वे पानी का कनेक्शन, बिजली कनेक्शन वापस ले रहे हैं। वे किसानों को परेशान कर रहे हैं, एक लोकतांत्रिक सरकार इस तरह से कैसे काम कर सकती है ?: केसी वेणुगोपाल, कांग्रेस सांसद

चक्का जाम: दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया

दिल्ली पुलिस ने शहीदी पार्क इलाके में चक्का जाम में शामिल प्रदर्शनकारी किसानों को हिरासत में लिया।

हैदराबाद में प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हटाया

किसानों द्वारा बुलाए गए देशव्यापी चक्काजाम के तहत हैदराबाद के बाहरी इलाके में एक राजमार्ग पर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हटा दिया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *