लखनऊ
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सनसनीखेज घटना सामने आई है। राजधानी के हजरतगंज थाना क्षेत्र स्थित लोक भवन गेट के सामने एक बार फिर आत्मदाह की कोशिश की गई है। शुक्रवार को एक ही परिवार के 7 लोगों ने खुद पर पेट्रोल डाल कर आत्मदाह करने की कोशिश की है। इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने परिवार को आत्महत्या करने से रोक लिया।

जानकारी के मुताबिक, परिवार के मुखिया राजा राम, पत्नी राम श्री, बेटा उमेश, पत्नी उषा देवी, बहन पुष्पा, बेटे वीरू यादव और अंकुल ने आत्मदाह का प्रयास किया। परिवार हरदोई जिले के धन्नूपुरवा का रहने वाला है। बताया गया है कि मकान पर दबंगों के कब्जा किए जाने से परेशान होकर परिवार से यह कदम उठाया है।

2 साल से न्याय के लिए भटक रहा परिवार
पीड़ित परिवार का आरोप है कि गांव के दबंग मकान पर कब्जा करना चाहते हैं। कामिनी कनौजिया, शिशिर कुमार वर्मा और अन्य लोग कब्जा करने को लेकर परेशान कर रहे हैं। प्रधान की ओर से जमीन 40 साल पहले दी गई थी। 2 साल से विवाद चल रहा है। मामले में हरदोई दीवानी में 2 साल से मुकदमा भी चल रहा है। इसमें राजस्व अधिकारियों ने भी कोई मदद नहीं की है।

अधिकारियों के संज्ञान में मामला
जेसीपी नवीन अरोरा ने कहा कि हरदोई जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों को जानकारी दी गई है। बीते 1 साल में 300 के करीब लोगों को विधानसभा के बाहर सुरक्षित बचाया गया है। अधिकतर जमीन विवाद के चलते लोग विधानसभा पहुच रहे हैं। कई मामलों में लोगों के उकसाने पर भी लोग लखनऊ आ रहे हैं। मामले की जांच होगी। विधानसभा और लोकभवन के बाहर ऐसी घटनाएं न हो। इस पर रोक लगाने के लिए नई रणनीति के तहत पुलिस काम कर रही है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *