दिल्ली में आज 5 फरवरी से 9वीं और 11वीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए भी स्कूल खुल गए हैं। स्कूल ही नहीं कॉलेज, डिग्री और डिप्लोमा इंस्टीट्यूट भी खोले जा रहे हैं। इससे पहले दिल्ली सरकार ने 18 जनवरी से 10वीं, 12वीं कक्षाओं के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल खोले थे। अब दूसरे चरण में 9वीं और 11वीं के लिए स्कूल खोले गए हैं। दिल्ली के राजकीय कन्या विद्यालय वेस्ट विनोद नगर में आज 9वीं और 11वीं के छात्राएं मास्क लगाकर सुबह की पाली में आते हुए। स्कूलों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी किए गए सभी दिशा निर्देशों का पालन किया रहा है।

ये हैं कोरोना संबंधी दिशा निर्देश
1. स्टूडेंट्स को रेगुलर अपने हाथ धोने होंगे। स्कूल में रहने के दौरान उन्हें सैनिटाइजर का भी इस्तेमाल करना होगा। 
2. क्लास में शिक्षकों और स्टूडेंट्स के लिए मास्क लगाना अनिवार्य है।

3. स्टूडेंट्स अपने अभिभावकों की लिखित सहमति से ही स्कूल आ सकते हैं। दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने साफ कर दिया है कि स्टूडेंट्स की हाजिरी अनिवार्य नहीं होगी। 

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस महामारी और देशव्यापी लॉकडाउन के कारण मार्च 2020 से स्कूल बंद थे। देश के कई राज्यों में अक्टूबर में स्कूल खोल दिए गए थे। 

आपको बता दें कि स्कूलों में कोरोना महामारी से बचाव के लिए सभी गाइडलाइंस का सख्ती से पालन किया जा रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क स्कूल परिसर पर अनिवार्य है। डिप्टी सीएम सिसोदिया ने स्कूल खोलने का ऐलान करते हुए कहा था कि  माध्यमिक व हायर एजुकेशन वाले संस्थान अपने छात्रों को प्रोजेक्ट वर्क या काउंसलिंग के लिए 5 फरवरी से बुला सकेंगे। बशर्ते कोरोना गाइडलाइन्स का उसी प्रकार पालन किया जाए, जिस प्रकार से 10वीं ,12वीं के छात्रों को पालन कराया जा रहा है। 

सिसोदिया ने कहा कि अभी तक 10वीं, 12वीं के जिन छात्रों को स्कूल जाकर कक्षाएं लेने की अनुमति दी गई है, उनमें से 80 फीसदी छात्र नियमित कक्षाओं के लिए स्कूल पहुंच रहे हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *