मथुरा. आपने शादियां तो बहुत देखी होंगी, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे विवाह के बारे में बताने जा रहे हैं जो न कभी आपने सुना होगा और न ही आपने कभी देखा होगा. इस अनोखी शादी को देखकर हर कोई आश्चर्यचकित रह गया. यह शादी इन दिनों मथुरा (Mathura) में चर्चा का विषय बनी हुई है. शादी की पगड़ी पहने और बग्गी पर गाजे-बाजे के साथ निकला यह दूल्हा लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है. इस अनोखी शादी को देखने के लिए हर कोई लालायित था और इस शादी में हर कोई शिरकत करना चाहता था.

बग्गी पर बैठा दूल्हा और बैंड-बाजे की धुन पर नाचते बाराती दुल्हन को ब्‍याहने के लिए निकल पड़े. हिंदू रीति रिवाज से दूल्हा-दुल्हन को परिणय सूत्र में बांधा गया. राया क्षेत्र के गांव थना अमरसिंह में गाय और बछड़े के विवाह का आयोजन किया गया. इस अनोखी शादी को देखने के लिए लोगों की भीड़ सड़क पर एकत्रित हो गयी. किला वेसवा (अलीगढ़) निवासी उदयभान सिंह बछड़े की बारात लेकर कस्बा राया के गांव थना अमरसिंह पहुंचे, जहां गाय और बछड़े का विवाह धूमधाम के साथ सम्पन हुआ.

रस्मों-रिवाज के साथ हुई शादी 

बारात मांट रोड नीमगांव तिराहे से चढ़कर बैंड-बाजे, बग्गी, डीजे और आतिशबाजी कर धूमधाम से गांव थना अमरसिंह बच्चू सिंह फौजी के घर पहुंची. इस अनोखी शादी को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा. गांव में गाय और बछड़े की शादी की सभी रस्मे करायी गईं. इस दौरान ग्रामीण महिलाओं ने काफी संख्या में बढ़-चढ़ कर कन्यादान कर पुण्यलाभ कमाया. वधू पक्ष की ओर से बच्चू सिंह ने जानकारी देते हुए बताया की 33 करोड़ देवी देवता गाय के अंदर वास करते है और हम लोग इस धरती पर नर्क में हैं. नंदी बाबा और नंदी मईया की शादी का आयोजन किया है.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *