चौरी चौरा महोत्‍सव के शुभारंभ के मौके पर सीएम योगी के साथ 50 हजार लोगों ने एक साथ वंदे मातरम् गाकर विश्‍व रिकार्ड बनाया। इसके साथ ही डेढ़ लाख से अधिक लोगों ने वंदे मातरम् के पहले छंद के गायन के वीडियो अपलोड किए। विश्‍व रिकार्ड बनाने का यह अभियान बुधवार से शुरू हो गया था। 

चार फरवरी 1922 की तारीख भारतीय स्‍वतंत्रता संग्राम का एक महत्‍वपूर्ण पड़ाव है। इस दिन पूरी दुनिया में चौरी चौरा की गूंज सुनाई दी थी। ब्रितानी हुकूमत के जुल्‍मो-अत्‍याचार जब हद से ज्‍यादा बढ़ गए, चौरी चौरा की धरती जुलूस निकाल रहे सत्‍याग्रहियों के खून के लहुलुहान हो गई तब सब्र का बांध टूटा और गुस्‍साई भीड़ ने थाने पर हमला बोलकर उसे आग के हवाले कर दिया। इस घटना में 11 सत्‍याग्रही शहीद हो गए थे जबकि 22 पुलिसकर्मी मारे गए। घटना से आहत महात्‍मा गांधी ने असहयोग आंदोलन वापस ले लिया। चौरी चौरा कांड भारतीय इतिहास में अमिट अध्‍याय के तौर पर जुड़ गया। 

आज इस ऐतिहासिक कांड के शताब्‍दी वर्ष महोत्‍सव का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने किया। पूर्वाह्न 11 बजे वह नई दिल्‍ली से वर्चुअली जुड़े। इस मौके पर वह चौरी चौरा पर एक डाक टिकट और विशेष आवरण भी जारी करेंगे। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी कार्यक्रम से ऑनलाइन जुड़ चुकी हैं। सीएम योगी ने निर्धारित समय से पहले पौने दस बजे ही समारोह स्‍थल पर पहुंचकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *