कर्नाटक में एक आवारा कुत्ते का पीछा करते हुए एक तेंदुआ फार्म हाउस के शौचालय में पहुंच गया। जहां कुत्ता और तेंदुआ एक साथ एक ही शौचालय में सात घंटे तक बंद रहे। तेंदुआ कुत्ते को मारे बिना शौचालय से बाहर कूद गया। यह घटना बिलिनेले गांव के कैकम्बा में रेप्पा के फार्म हाउस में घटी, जो किडू रिजर्व फॉरेस्ट के किनारे पर है। यह कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले के सुब्रह्मण्य क्षेत्र में बड़े वन क्षेत्र का हिस्सा है।

डिप्टी कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट्स वी करिकालन के अनुसार रेगप्पा के परिवार के एक सदस्य ने शौचालय के अंदर कुत्ते और तेंदुए को देख ताला लगा दिया। इसके बाद वन विभाग के कर्मियों को सूचित किया। वन विभाग के कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचे। तेंदुए और कुत्ते को निकालने का प्रयास किया गया। करिकालन ने कहा कि शौचालय के बाहर एक पिंजरा रखा गया था और चारों ओर जाल फैलाया गया। 

पशु चिकित्सक को भी बुलाया गया। तेंदुआ कुत्ते को मारे बिना शौचालय से कूद कर बाहर निकल गया। इसके बाद कुत्ता भी शौचालय से बाहर निकला। ये पूरा रेस्क्यू ऑपरेशन सात घंटे तक चला। इस घटना की एक तस्वीर भी सामने आई है। शौचालय में बने एक झरोखे में से यह तस्वीर क्लिक की गई है। इस घटना की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। 

महिला को दिखी थी तेंदुए की पूंछ 
बताया गया कि जब कुत्ता और तेंदुआ दोनों शौचालय में थे, इस बीच एक महिला ने शौचालय में प्रवेश किया, लेकिन तेंदुए की पूंछ को देखते ही उसने फौरन दरवाजा बंद कर दिया और ताला डाल दिया। उसने पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया। इस घटना की सूचना मिलते ही अधिकारी मौके पर पहुंचे और बचाव अभियान की योजना बनाई। इसके बाद शौचालय की पतरे को हटाकर जाल बिछाया गया, लेकिन लोगों को चकमा देकर तेंदुआ वहां से भागने में कामयाब रहा। हालांकि, राहत की बात तो यह है कि इस प्रक्रिया के दौरान कोई भी घायल नहीं हुआ।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *