4 फरवरी को उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव का आयोजन होगा। शहीद स्मारकों पर मंत्री, सांसद, विधायक तथा अन्य जनप्रतिनिधि तथा शहीदों/स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों को इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। दिन मे 11.00 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चौरी-चौरा शताब्दी समारोह का शुभारम्भ करेंगे।

इसके अन्तर्गत ‘चौरी-चौरा थीम सांग’ पर प्रस्तुति चौरी-चौरा पर आधारित डाक टिकट का विमोचन भी होगा। मुख्यमंत्री का उद्बोधन तथा प्रधानमंत्री द्वारा वर्चुअल माध्यम से आशीर्वचन दिया जाएगा।जनपदों के शहीद स्थलों तथा शैक्षणिक संस्थानों पर इसके सजीव प्रसारण की व्यवस्था की जाएगी। आयोजन के तहत सुबह से शाम तक क्या क्या किए जाने हैं इसके लिए विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने दिशा निर्देशों का पालन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। 

सुबह 8.30 बजे निकलेगी प्रभातफेरी
मुख्य सचिव ने बताया है कि चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव की राज्य स्तरीय आयोजन समिति द्वारा अनुमोदित तथा लोकार्पित प्रतीक चिन्ह (स्वहव) का प्रयोग समस्त सरकारी पत्राचारों, प्रकाशनों, स्टेशनरी एवं वर्ष भर आयोजित होने वाले समस्त आयोजनों में अनिवार्य रूप से किया जाएगा। चार फरवरी को प्रदेश के गांवों, विद्यालयों से सुबह 8.30 बजे प्रभातफेरी निकाली जाएगी। प्रभातफेरी सुबह दस बजे तक जिलों में स्थित प्रमुख शहीद स्थलों पर पहुंचेगी। प्रभातफेरी में एनएसएस, एनसीसी, सिविल डिफेन्स, स्काउट गाइड, समाजसेवी/स्वयंसेवी संस्थाओं के स्वयंसेवकों को भी शामिल करने के निर्देश दिए गए हैं। कार्यक्रम स्थल पर बच्चों के लिए पानी तथा जलपान का प्रबन्ध किया जाएगा। 

सुबह 10 बजे वंदेमातरम गायन होगा
सुबह 10 बजे गोरखपुर जिले के चौरीचौरा स्थित स्मारक के साथ ही प्रदेश के सभी शहीद स्मारकों पर वंदेमातरम का का गायन होगा। इसके बाद 10.15 बजे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों तथा शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा। शाम 5.30 से 6.00 बजे तक पुलिस बैंड द्वारा राष्ट्रधुन का वादन होगा। इसके बाद 6.30 बजे से दीप प्रज्ज्वलन का कार्यक्रम किया जाएगा।

शहीद स्मारकों पर मंत्री, सांसद, विधायक तथा अन्य जनप्रतिनिधि तथा शहीदों/स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों को इस अवसर पर उपस्थित रहने के लिए आमंत्रित करने को कहा गया है। दिन मे 11.00 बजे प्रधानमंत्री चौरी-चौरा शताब्दी समारोह का शुभारम्भ करेंगे। इसके अन्तर्गत ‘चौरी-चौरा थीम सांग’ पर प्रस्तुति चौरी-चौरा पर आधारित डाक टिकट का विमोचन भी होगा। मुख्यमंत्री का उद्बोधन तथा प्रधानमंत्री द्वारा वर्चुअल माध्यम से आशीर्वचन दिया जाएगा।जनपदों के शहीद स्थलों तथा शैक्षणिक संस्थानों पर इसके सजीव प्रसारण की व्यवस्था की जाएगी। 

साल भर विभिन्न तिथियों पर आयोजित होंगे कार्यक्रम
चौरी-चौरा शताब्दी समारोह कैलेंडर द्वारा साल भर स्वतंत्रता संग्राम तथा देशभक्ति पर आधारित महत्वपूर्ण तिथियों पर कार्यक्रमों का निर्धारण किया जाएगा। गोरखपुर में स्वतंत्रता संग्राम स्थलों-शहीद बन्धु सिंह स्मारक, गोरखपुर जेल, डोहरिया कला में भी चार फरवरी को श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। चौरी-चौरा में चार व पांच फरवरी को कार्यक्रम होंगे। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *