आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बेकाबू ट्रक ने बुधवार सुबह बड़ा हादसा हुआ। तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आकर चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में एक्सप्रेस-वे पर काम कर रहे यूपीडा के तीन कर्मचारी हैं, जबकि एक की पहचान बस के हेल्पर  के रूप में हुई है। तीन की मौके पर ही मौत हो गई, एक ने इलाज के दौरान सैफई में दम तोड़ दिया।

यह हादसा एक्सप्रेस-वे पर तालग्राम थाना क्षेत्र के बेहटा गांव के पास बुधवार तड़के हुआ। दिल्ली से बिहार जा रही प्राइवेट बस में खराबी आ गई थी। उसे पीली पट्टी के किनारे खड़ा किया गया था। सूचना पर यूपीडा का गश्ती दल मौके पर पहुंचा था। बस का हेल्पर व चार अन्य लोग और यूपीडा के रिटायर्ड फौजी अवधेश कुमार व शैलेश कुमार बस के पास खड़े थे। तभी आगरा से लखनऊ की तरफ जा रहा तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित हो गया और सभी को रौंद दिया। जिसमें बस का हेल्पर व यूपिडा गश्ती दल के स्वदेश कुमार व आशीष कुमार की मौके पर ही मौत हो गई। टक्कर के बाद यह बस आगे खड़ी यूपिडा गश्ती दल की गाड़ी से भी जा टकराई। जिससे गाड़ी में बैठे गश्ती दल के तीनों लोग भीगंभीर रूप से घायल हो गए। व बस के पास खड़े चार अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

सूचना पर तालग्राम पुलिस ने एंबुलेंस की मदद से गश्ती दल के तीनों घायल लोगों को सैफई भेजा, जहां इलाज के दौरान एक की मौत हो गई। बस के पास खड़े चार अन्य लोगों को मेडिकल कॉलेज तिर्वा में भर्ती कराया। उन्होंने घटना की सूचना उच्चाधिकारियों को दी। डीएम व एसपी सहित प्रशसन का अमला मौके पर पहुंचा। बस व ट्रक को पुलिस ने कब्जे में लेकर थाना पर खड़ा करवाया है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *