देश भर में वक्फ की जमीन कब्जाधारियों की गिरफ्त में है, इसपर बड़ी बड़ी इमारतें खड़ी कर ली गई हैं। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड व बिहार में भारत सरकार के अल्पसंख्यक विभाग की ओर से कराए गए सर्वे में यह हकीकत सामने आई है।

मंत्रालय की ओर से देशभर में वक्फ संपत्तियों का जीपीएस सर्वे कराया जा रहा है। पिछले दिनों एएमयू के रिमोट सेंसिंग डिपार्टमेंट को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार व दिल्ली राज्य की वक्फ संपत्ति का सर्वे करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसके लिए पांच करोड़ रुपए का बजट  भी जारी किया गया था।

सेंट्रल वक्फ काउंसिल प्रोजेक्ट के को-ऑर्डिनेटर प्रोफेसर शादाब खुर्शीद बताते हैं कि उत्तराखंड व बिहार का सर्वे लगभग पूरा कर लिया गया है। दिल्ली और उत्तर प्रदेश का सर्वे 70 फीसदी तक पूरा किया जा चुका है।

सर्वे में पाया गया कि वक्फ की अधिकांश जमीन पर कब्जा कर इमारतें तैयार कर ली गई हैं। जिसके चलते सर्वे में भी परेशानी का सामना करना पड़ा है। स्थानीय जिलों के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों की मदद से सर्वे किया जा रहा है। सर्वे का उद्देश्य वक्फ की संपत्ति का सही स्थिति सामने लाना और देखना है कि देशभर में ऐसी कितनी संपत्ति है और कितनी पर कब्जा किया गया है।

एक क्लिक पर कहीं से भी देख सकेंगे संपत्ति

वक्फ की संपत्ति का जीपीएस सर्वे होने के बाद उसको एक क्लिक पर कहीं से भी देखा जा सकेगा। विभाग की ओर से पूरी संपत्ति को ऑनलाइन अपलोड भी किया जा रहा है।

 
अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय की ओर से देश भर की वक्फ संपत्तियों का सर्वे कराया जा रहा है। इसके लिए एएमयू के रिमोट सेंसिंग डिपार्टमेंट को चार राज्यों का जीपीएफ सर्वे करने की जिम्मेदारी सौपी गई है। सर्वे अधिकांश पूरा हो चुका है। सर्वे में सामने आया हैं कि चारों राज्यों में वक्फ की संपत्तियों पर कब्जा किया गया है। कितना कब्जा किया गया है, यह कहना मुश्किल है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *