सिंघु बॉर्डर पर किसानों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पत्थऱबाजी हुई, जिसको रोकने के दौरान पुलिस अफसर पर तलवार से हमला हुआ। हमले में एसएचओ के हाथ पर चोट आई है, वहीं घटना में एडिशनल डीसीपी भी घायल हुए हैं।

सिंघु बॉर्डर पर हालात तब तनावपूर्ण हो गए हैं, जब आंदोलन कर रहे किसानों और स्थानीय लोगों में झड़प हो गई। दोनों ओर से काफी देर तक पथराव किया गया। ये पथराव पुलिस की मौजूदगी में हुई। हालाकि, बाद में हालात को काबू में करने के लिए पुलिस ने पथराव कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। पथराव के बाद सिंघु बॉर्डर पर काफी संख्या में सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं।

पत्थरबाजों को रोकने के दौरान पुलिस अफसर पर तलवार से हमला हुआ। तलवार से हुए इस हमले में अलीपुर के एसएचओ प्रदीप पालीवाल और एडिशनल डीसीपी घनश्याम बंसल घायल हुए हैं। एसएचओ प्रदीप पालीवाल के हाथ पर तलवार से हमला किया गया था, जिसमें वो बुरी तरह से घायल हो गए हैं। हालांकि, तलवार से हमला करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। सिंघु बॉर्डर पर स्थानीय लोगों ने प्रदर्शनकारी किसानों से जगह खाली करने का अल्टीमेटम दिया था।

टीकरी बॉर्डर पर भी हंगामा

टीकरी बॉर्डर पर भी स्थानीय लोगों ने आंदोलनकारी किसानों के खिलाफ जमकर हंगामा किया है। भारी संख्या में स्थानीय लोग धरनास्थल पर पहुंच कर बवाल काटा है। तिरंगे के अपमान के आरोप में स्थानीय लोगों ने किसानों के खिलाफ प्रदर्शन किया है।वहीं सिंघु बॉर्डर पर हुए हंगामें पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर करारा हमला बोला है। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा है कि अभी भाजपाई उत्पातियों ने सिंघु बार्डर पर किसानों के आंदोलन पर पथराव किया है। सारा देश देख रहा है कि भाजपा कुछ पूंजीपतियों के लिए कैसे देश के भोले किसानों पर अत्याचार कर रही है। भाजपा की साज़िश और बच्चों, महिलाओं व बुजुर्गों किसानों पर की जाने वाली निर्दयता घोर निंदनीय है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed