मुंबई के अंधेरी में पुलिस ने एक अपहरण मामले का भांडाफोड़ किया है। यहां एक ड्राइवर ने रिश्तेदार के साथ मिलकर अपने ही बिल्डर मालिक के जुड़वा बच्चों को अगवा किया। इस मामले को लेकर अब पुलिस ने बताया है कि बिल्डर के लिए काम कर रहे ड्राइवर ने बच्चों के अपहरण की योजना बनाई थी ताकि वह इसके एवज में 1 करोड़ रुपये की फिरौती ले सके।

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘पूछताछ के दौरान ड्राइवर ने कबूल किया है कि अपनी बेटी की शादी करवाने के लिए उसने ही मालिक के जुड़वा बच्चों को अगवा करने की साजिश रची थी।’

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, यह मामला तब सामने आया जब एक रियल एस्टेट डेवलेपर ने सोमवार शाम पुलिस से अपने बच्चों के लापता होने की शिकायत की। उन्होंने पुलिस को कहा कि वे लोग जुहू से वापस घर लौट रहे थे। रास्ते में ही किडनैपरों ने उनके ड्राइवर को पीटा और बच्चों को अगवा कर के ले गए।

शिकायत के मुताबिक, एक किडनैपर ने कथित तौर पर जबरन गाड़ी का दरवाजा खोला और फिर बच्चों-ड्राइवर को धमकी थी। इसके बाद किडनैपर गाड़ी को जुहू के पीवीआर इलाके में ले गए।

शिकायत में यह भी बताया गया है कि किडनैपरों ने बच्चों और ड्राइवर को नशे की दवा दी। इसके बाद एक बच्चे और ड्राइवर को किडनैपरों ने स्कूल बस में डाला तो वहीं दूसरे बच्चे को गाड़ी में ही रखा।

इस दौरान मौके पर पुलिस पहुंची और एक बच्चे को बचा लिया। वहीं, दूसरा बच्चा वहां मौजूद लोगों की मदद से भागने में कामयाब रहा और अपने मां-बाप को इस पूरे वाकये की जानकारी थी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस बीच, बच्चों की मां को एक करोड़ की फिरौती के लिए फोन कॉल आया।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ‘शिकायत में हमें कई जगह संदेह लगा और हमने सबसे पहले ड्राइवर से ही पूछताछ शुरू की। 18 घंटे तक पूछताछ के बाद उसने बताया कि उसने अपहरण की साजिश इसलिए रची ताकि 1 करोड़ रुपये की फिरौती मिल सके और वह अपनी बेटी की शादी करवा सके।’

आरोप ड्राइवर ने इस अपहरण को अंजाम देने के लिए दिल्ली से अपने एक रिश्तेदार को भी बुलाया और उससे वादा किया कि फिरौती की आधी रकम उसे देगा।

पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर केस सुलझाने का दावा किया है। मामले में भारतीय दंड संहिता की अलग-अलग धाराओं के तहत एफआईआर भी दर्ज की गई है। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *