इटावा, जेएनएन। कहने को तो सभी सरकारी और गैर सरकारी विभाग के अफसर अपने कर्तव्य के प्रति निष्ठावान होते हैं। परंतु सभी विभागों से अलग एक पुलिस विभाग है जहां न केवल पुलिस कर्मी अपनी निष्ठा का अपितु निष्पक्ष व तटस्थ होकर कार्रवाई भी करते हैं। पुलिस विभाग की इसी निष्ठा को आत्मसात करते हुए बीएससी की छात्रा आकांक्षा ने नजीर पेश कर दी। आकांक्षा ने वाहन चेकिंग के दौरान बिना हेलमेट दिखे अपने पिता का भी चालान काट दिया। इसके अलावा बाजार में दुकानदारों के अतिक्रमण से मुक्ति से लेकर थाने में आने वाले फरियादियों की शिकायत पर त्वरित कार्रवाई पर आकांक्षा का जोर रहा। 

परिवार की भलाई के लिए हेलमेट लगाने का दिया संदेश 

बालिका दिवस पर थाना ऊसराहार में थाना प्रभारी पद पर आकांक्षा गुप्ता तो सब इंस्पेक्टर पद पर कृति ने कार्यभार संभाला। आकांक्षा ने  थाने का निरीक्षण किया। सभी पुलिसकर्मियों से परिचय प्राप्त करने के बाद थाने में फरियाद लेकर आए भोले सक्सेना के प्रार्थना पत्र पर सब इंस्पेक्टर धर्मेंद्र शर्मा को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। थाना प्रभारी अमरपाल सिंह और पुलिस कर्मियों के साथ कस्बा में गश्त भी की। वाहन चेकिंग के दौरान आकांक्षा ने बाइक पर बिना हेलमेट जा रहे पिता अरविंद गुप्ता को भी रुकवाया और चालान काटने के निर्देश दिए। भविष्य में परिवार की भलाई के लिए हेलमेट लगाकर ही बाइक चलाने की सलाह दी। इस पर अरविंद ने बेटी के समक्ष आगे से ऐसी गलती दोबारा नहीं करने की शपथ ली।

आकांक्षा ने कहीं ये बातें 

आकांक्षा थाना प्रभारी बनाए जाने पर बेहद खुश दिखी। उसने कहा कि पुलिस के कामकाज को नजदीक से जानने का मौका मिला और पुलिस को लेकर सोच सकारात्मक बनी। बोली, समाज अब बेटियों को बोझ नहीं समझ रहा है। बेटियां भी अब कदम से कदम मिलाकर समाज और राष्ट्र के लिए बराबर कार्य कर रहें

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *