गणतंत्र दिवस परेड को देखते हुए दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में मंगलवार यानी 26 जनवरी को दिल्ली मेट्रो की सेवाओं को आंशिक रूप से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। केंद्रीय सचिवालय स्टेशन पर प्रवेश और निकास दोपहर 12 बजे तक के लिए बंद रहेगा।  डीएमआरसी के मुताबिक, इस स्टेशन का इस्तेमाल उस समय लाइन 2 और लाइन 6 के यात्रियों के इंटरचेंज के लिए किया जाएगा।

हुडा सिटी सेंटर-समईपुर बादली मेट्रो लाइन पर सेवाओं को 26 जनवरी को आंशिक रूप से रेगुलेट किया जाएगा। बयान के अनुसार, परेड खत्म होने तक उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन से प्रवेश बंद रहेगा। साथ ही पटेल चौक मेट्रो स्टेशन और लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश सुबह 8:45 से 12 बजे तक बंद रहेगा।

डीएमआरसी ने बयान में कहा कि 25 जनवरी को सुबह 6 बजे से दोपहर दो बजे तक के लिए सभी मेट्रो पार्किंग स्थल बंद रहेंगे। यह कदम सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए उठाया गया है।

भारत परेड के दौरान राजपथ पर अपनी सैन्य शक्ति का प्रदर्शन करने के लिए पूरी तरह तैयार है। हालांकि, इस साल गणतंत्र दिवस परेड कोरोना महामारी के कारण बीते साल की तुलना में बहुत अलग होगी। इस वर्ष मुख्य अतिथि की उपस्थिति के बिना परेड आयोजित की जाएगी। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शुरुआत में मुख्य अतिथि बनने के लिए भारत के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था, लेकिन यूनाइटेड किंगडम में कोरोना के नए स्ट्रेन सामने आने कारण महामारी की स्थिति बिगड़ी और यात्रा को रद्द कर दिया गया। इससे पहले 1952, 1953 और 1966 में गणतंत्र दिवस परेड के दौरान कोई मुख्य अतिथि नहीं थे।

महामारी के मद्देनजर, केवल 25,000 दर्शक गणतंत्र दिवस परेड का गवाह बनेंगे। पिछले साल करीब 1,50,000 दर्शकों को अनुमति दी गई थी। मीडियाकर्मियों की संख्या में भी 300 से 200 की कटौती की गई है। इस साल, गणतंत्र दिवस की परेड लाल किले तक जाने के बजाय राष्ट्रीय स्टेडियम के पास समाप्त होगी। मार्च के लिए भी दूरी में 50 फीसदी की कमी की गई है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *