पश्चिम बंगाल के सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस में उथल-पुथल का दौर खत्म ही नहीं हो रहा है। एक के बाद एक कई नेपा पार्टी को अलविदा कह चुके हैं तो शुक्रवार को पार्टी ने एक विधायक को पार्टी से निकाल दिया। समाचार एजेंसी पीटीआई ने तृणमूल सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि तृणमूल कांग्रेस ने विधायक बैशाली डालमिया को पार्टी से निकाल दिया |

बेल्ली से विधायक डालमिया टीएमसी नेतृत्व के एक वर्ग के खिलाफ सार्वजनिक रूप से अपनी बात रख चुकी हैं। साथ ही उन्होंने दावा किया था कि ‘पार्टी में ईमानदार लोगों के लिये कोई जगह नहीं है।’ टीएमसी ने एक बयान में कहा कि शुक्रवार को उसकी अनुशासन समिति की बैठक हुई, जिसमें डालमिया को पार्टी से निष्कासित करने का फैसला लिया गया।

इससे कुछ ही घंटे पहले तृणमूल के ही वरिष्ठ नेता राजीव बनर्जी ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। डालमिया ने बनर्जी के इस्तीफे के लिए भी पार्टी नेतृत्व की आलोचना की। डालमिया बीते कुछ दिनों से अपनी ही पार्टी के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाए हुए थीं। उन्होंने हाल ही में कहा था कि तृणमूल के कुछ भ्रष्ट नेता दीमक की तरह पार्टी को चट कर रहे हैं।पार्टी ने नहीं दी निकाले जाने की सूचना: बैशालीउधर, बैशाली डालमिया ने इसे लेकर कहा है कि पार्टी की ओर से उन्हें अभी तक निकाले जाने की सूचना नहीं मिली है। उन्होंने कहा, मेरे पास कुछ लिखित में नहीं आया है, कोई फोन कॉल नहीं आई है। मुझे एक चैनल के जरिए ये बात पता चली। मुझे पता नहीं है कि ये कैसी व्यवस्था है कि कोई चिट्ठी नहीं आती है, फोन करके नहीं बताया जाता है। मैं राजनीति में जनता की सेवा करने के लिए आई थी। मैंने जनता का काम करने के लिए एक पार्टी ज्वाइन की थी। जनता की सेवा करना ही मेरी प्राथमिकता है। मैं राजनीति में रहूंगी, जनता के साथ रहूंगी।

पार्टी ने नहीं दी निकाले जाने की सूचना: बैशाली
उधर, बैशाली डालमिया ने इसे लेकर कहा है कि पार्टी की ओर से उन्हें अभी तक निकाले जाने की सूचना नहीं मिली है। उन्होंने कहा, मेरे पास कुछ लिखित में नहीं आया है, कोई फोन कॉल नहीं आई है। मुझे एक चैनल के जरिए ये बात पता चली। मुझे पता नहीं है कि ये कैसी व्यवस्था है कि कोई चिट्ठी नहीं आती है, फोन करके नहीं बताया जाता है। मैं राजनीति में जनता की सेवा करने के लिए आई थी। मैंने जनता का काम करने के लिए एक पार्टी ज्वाइन की थी। जनता की सेवा करना ही मेरी प्राथमिकता है। मैं राजनीति में रहूंगी, जनता के साथ रहूंगी। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *