अमेजॉन प्राइम वीडियो पर रिलीज हुई वेब सीरीज ‘तांडव’ को लेकर विवाद अभी खत्म भी नहीं हुआ था और अब मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने कहा है कि इस मामले की सुनवाई सभी ओटीटी प्लेटफॉर्म की सामग्री पर नियंत्रण की मांग करने वाली याचिका के साथ होगी। सीजेआई एसए बोबड़े, जस्टिस एएस बोपन्ना और वी रामा सुब्रमण्यम की बेंच ने नोटिस जारी किया है।

दरअसल इस सीरीज पर मिर्जापुर की छवि को बदनाम करने का आरोप लगा है। ये भी आरोप लगाया गया है कि एक युवक को इसलिए दूसरे राज्य में नौकरी नहीं मिली क्योंकि वो मिर्जापुर का रहने वाला था। जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के चिलबिलिया भुइली निवासी अरविंद चतुर्वेदी ने निर्माताओं के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है।

लोगों का आरोप है कि सीरीज में मिर्जापुर को गलत ढंग से प्रस्तुत किया गया है। इससे इस जगह की छवि खराब हुई है और धार्मिक, क्षेत्रीय व सामाजिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया गया है। मामले में मिर्जापुर वेब सीरीज से जुड़े रितेश साधवानी, फरहान अख्तर और भौमिक गोडलिया और अमेजन प्राइम पर मुकदमा भी दर्ज किया गया है।

बता दें कि जब अक्तूबर में वेब सीरीज मिर्जापुर का दूसरा सीजन रिलीज हुआ था उस वक्त भी खूब विवाद हुआ था। सोशल मीडिया पर इसके बायकॉट की मांग भी उठी थी। लोगों का आरोप है कि इस सीरीज में रिश्तों के कुछ ऐसे संबंध दिखाए गए हैं जो कि समाज में गलत असर डालते हैं। मालूम हो, मिर्जापुर वेब सीरीज की पहला सीजन साल 2018 में रिलीज हुआ था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *