मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर फरवरी के दूसरे सप्ताह में लखनऊ में दो दिवसीय राज्य स्तरीय गुड़ महोत्सव-2021 आयोजित होगा। स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस महोत्सव में शामिल होंगे। 19 जनवरी को लखनऊ में परामर्शदात्री समिति की बैठक बुलाई गई है जिसमें आयोजन की तिथि और जिलों से गुड़ उत्पादक किसानों के भागीदारी के लिए प्रक्रिया निर्धारित की जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गन्ना किसानों की आय को दो गुना करने के लिए गुड़ महोत्सव के आयोजन पर जोर दे रहे हैं। उनका मानना है कि गुड़ एवं गुड़ के सह-उत्पादों और औषधीय लाभों के प्रति जन-जागरूकता का प्रसार कर किसानों को एक बड़ा बाजार दिया जा सकता है। इसके अलावा गन्ना किसानों को गन्ने के रस से गुड़ और दूसरे उत्पाद बनाने के लिए प्रेरित किया जा सकता है। ऐसा कर किसान ज्यादा लाभ हासिल कर सकेंगे। यही, वजह है कि इस ‘राज्य गुड़ महोत्सव-2021’ में कृषि से जुड़े सभी विभागों के स्टाल महोत्सव में लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री स्वयं इस दो दिवसीय गुड़ महोत्सव का शुभारंभ करेंगे। इसमें प्रदेश भर के किसान अपने द्वारा तैयार गुड़ व उसके सह-उत्पाद लेकर पहुंचेंगे। गोरखपुर मण्डल के से भी गन्ना किसानों की सहभागिता मेले में होगी। इसके लिए तैयारिया शुरू कर दी गई हैं।

उप गन्ना आयुक्त ऊषा पाल ने बताया कि शुक्रवार को परामर्शदात्री समिति की बैठक में गुड़ महोत्सव, 2021 के आयोजन के उद्देश्य एवं कार्यक्रम की रूपरेखा सहित समस्त आयोजन समितियों यथा परामर्शदात्री समिति, आयोजन समिति, वित्त समिति, प्रदर्शनी एवं पंडाल समिति, प्रचार एवं साहित्य व्यवस्था समिति, स्वागत समिति व परिवहन समिति आदि के दायित्वों पर विस्तृत रूप से चर्चा हुई। 19 जनवरी की बैठक में किसानों की भागीदारी की रणनीति भी तय हो जाएगी।

पिछले वर्ष स्थगित हुआ था गुड़ महोत्सव
दो दिवसीय गुड़ महोत्सव मुख्यमंत्री के निर्देश पर पिछले साल ही आयोजित होना था। लेकिन कोविड 19 के संक्रमण एवं अन्य प्रशासनिक कारणों से स्थगित हो गया था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *