मकर संक्रांति पर्व पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर पहुंचे. वहां पर वह गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर के रूप में पहुंचे है. वहीं उन्होंने ने गुरुवार को ब्रम्हमुहूर्त में गुरु गोरखनाथ की पूजा करके खिचड़ी भी चढ़ाई.

पूर्वांचल का लोकप्रिय खिचड़ी मेला गुरुवार से शुरू हो गया है. वहीं ये मेला गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में आयोजित किया जाता है. जहा के पीठाधीश्वर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ है. वहीं सीएम योगी गोरखनाथ मंदिर में वहां के पीठाधीश्वर के रूप में पहुंचे है और गुरु गोरखनाथ की आस्था की खिचड़ी चढ़ाकर पम्परागत रूप से मनाई जाने वाली मकर संक्रांति का शुभारंभ भी किया है. साथ ही ब्रम्हमुहूर्त में मुख्यमंत्री योगी ने गोरक्षपीठाधीश्वर ने मकर संक्रांति के मौके पर परम्परागत पूजा अर्चना किया है.

गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी का चढाने के लिए दूरदराज से ही श्रद्धालु दो-तीन दिन पहले ही पहुंचना शुरू कर देते है. वहीं मकर संक्रांति से एक रात पहले ये श्रद्धालु लाइन लगाकर खिचड़ी चढाने के लिए खड़े हो जाते है और पूजा हो जाने के बाद खिचड़ी चढाने लगते है. शहर में खिचड़ी के मौके पर भारी संख्या में लोग आते है. जिसे देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने भी कड़ी निगरानी के इंतजाम किए है.

पुरे दिन चलता है भंडारा

मकर संक्रांति के मौके पर गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढाने आए श्रद्धालओं के लिए खिचड़ी के भंडारे का आयोजन किया जाता है. जिसमे सभी को शुद्ध देशी घी में बनी खिचड़ी परोसी जाती है. साथ ही यह परम्परा सालों से चली आ रही है. जिसे ग्रहण करने के लिए आम हो या खास सभी खिचड़ी खाने के लिए पहुंचते है.

नेपाल नरेश की तरफ से आती है खिचड़ी का चढ़ावा

मकर संक्रांति के मौके पर नेपाल के नरेश प्रत्येक साल गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी का चढ़ावा चढाने के लिए भेजते है. साथ ही यहां पर नेपाल से कई श्रद्धालु भी पहुंचते है. इतना ही नहीं देश के कई राज्यों से भी गोरखनाथ मंदिर खिचड़ी चढाने के लिए आते है.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *