Coronavirus vaccine: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि चार अन्य वैक्सीन का निर्माण भारत में किया जा रहा है. उपयोग हेतु ये वैक्सीन भी शीघ्र ही उपलब्ध होंगे.

नई दिल्ली: कोरोना वायरस का टीका देश के 14 शहरों में पहुंच चुका है. 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हो जाएगा. इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि आने वाले दिनों में चार और वैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ”देश में दो वैक्सीन को अनुमति दी गई है. चार अन्य वैक्सीन का निर्माण भारत में किया जा रहा है.

उपयोग हेतु ये वैक्सीन भी शीघ्र ही उपलब्ध होंगे.

”भविष्य में जिन चार कंपनी की कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी यूज के लिए अनुमति मिल सकती है वो हैं- जाइस कैडिला, स्पुतनिक वी, बाइलोजिकल ई और जेनोवा. चार वैक्सिन का ट्रायल अभी भारत में चल रहे हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोमवार को चार नए टीके को लेकर प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने कहा था, ”देश के लिए गर्व की बात है कि जिन दो टीकों को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है, वे दोनों ही ”मेड इन इंडिया” हैं. इतना ही नहीं, चार और टीकों पर काम हो रहा है . जब ये टीके आ जाएंगे तो हमें भविष्य की योजना बनाने में और सुविधा होगी.

”बता दें कि 3 जनवरी को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने दो वैक्सीन कोविशिल्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी दी थी. ऑक्सफोर्ड के टीके कोविशिल्ड को सीरम इंस्टीट्यूट तैयार कर रही है. वहीं कोवैक्सीन को भारत बायोटेक ने बनाया है. फिलहाल कोविशिल्ड वैक्सीन को देश के 14 शहरों में भेजा गया है.

सरकार ने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से कोविशील्ड टीके की 1.1 करोड़ खुराक खरीदी गयी है और प्रत्येक खुराक पर 200 रुपये की लागत आयी है, इसमें टैक्स शामिल नहीं है

.स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रीय, राज्य स्तरीय टीका भंडारण केंद्र तक मंगलवार को शाम चार बजे तक कोविशील्ड की 54 लाख से ज्यादा खुराक पहुंचायी गयी है.

सरकार ने कहा कि भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी जा रही है. कोवैक्सीन की 38.5 लाख खुराक में से प्रत्येक पर 295 रुपये (कर को छोड़कर) की लागत आएगी. भारत बायोटेक 16.5 लाख खुराक निशुल्क मुहैया करा रही है, जिससे इसकी लागत प्रत्येक खुराक पर 206 रुपये आएगी.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *