देश के कई हिस्‍सों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। बात अगर पहाड़ों की करें तो जम्मू-कश्मीर में कोहरे के कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई। उधर, घाटी और लद्दाख में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर कम हो गया है।

रात का सबसे कम तापमान लद्दाख के द्रास शहर में शून्य से नीचे 30.5 डिग्री हो गया, जो कि प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। इसी बीच कश्मीर घाटी में गुलमर्ग शून्य से नीचे 12.2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ यहां का सबसे सर्द स्थान रहा। जम्मू संभाग में भद्रवाह शून्य से नीचे 0.5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम के साथ यहां का सबसे सर्द स्थान दर्ज किया गया।

तापमान और गिरने का अनुमान

मौसम विभाग के अनुसार मौसम के धुंधले और शुष्क रहने की संभावना है। क्लाउड कवर के कारण घाटी और लद्दाख में अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बीच का अंतर कम हो रहा है।

श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे -7.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि सोमवार तक अधिकतम तापमान 4.1 था। इससे स्थानीय लोगों के लिए दिन और रात दोनों ही ठंडे हो गए हैं। पहलगाम में न्यूनतम तापमान 5.3 और गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान 12.2 डिग्री सेल्सियस रहा।

लद्दाख के लेह शहर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 15.9, कारगिल का शून्य से नीचे 14.4 और द्रास का शून्य से नीचे 28.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौजूदा समय में कश्मीर मध्य चिल्लई-कलां में है। चालीस दिवसीय सर्दियों की अवधि जो 21 दिसंबर को शुरू हुई है और 31 जनवरी को समाप्त होगी। सभी जल स्रोत जम गए हैं। लोगों को पीने के पानी तक की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि प्रशासन अपनी तरफ से लोगों की मदद के लिए हरसंभव प्रयास कर रहा है।

इसी बीच जम्मू संभाग में न्यूनतम तापमान के रूप में जम्मू शहर में 8.9, कटरा 6.4, बटोत 2.4, बनिहाल 2.0 और भद्रवाह में माइनस 0.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *