राजपथ पर 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस की परेड में इस बार बांग्लादेशी सैनिक भी हिस्सा लेंगे। दरअसल भारत के हाथों पाकिस्तान को 1971 में युद्ध में मिली ऐतिहासिक हार से ही बांग्लादेश का अस्तित्व सामने आया था। भारतीय सेना के उस ऐतिहासिक पराक्रम के 50वें साल में बांग्लादेश भी शामिल हो रहा है।

बांग्लादेश की सेना भी 26 जनवरी को दिल्ली में ​​गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होगी।​ ​​​मार्चिंग टुकड़ी में ​122​ बांग्लादेशी ​​सैनिक​ ​अपने हथियारों के साथ शामिल होंगे​​। ​बांग्लादेशी सैनिकों का दल मंगलवार को दिल्ली पहुंच गया है।​ ​

बांग्लादेश निर्माण की स्वर्ण जयंती पर भारत ने गणतंत्र दिवस की परेड में हिस्सा लेने के लिए बांग्लादेशी दल को आमंत्रित किया था। बांग्लादेश की मार्चिंग टुकड़ी में ​122​ सैनिक शामिल होंगे जो अपने साथ बीडी-08 राइफल्स और चीनी टाइप 817.62 एमएम के हथियार का लाइसेंस-निर्मित वैरिएंट साथ लिए होंगे। बांग्लादेश सशस्त्र बलों के 122 सदस्य ​गणतंत्र ​दिवस की परेड में भाग लेने के लिए​ भारत ​आ गये हैं। ​

भारतीय वायुसेना​ के एक विशेष ​परिवहन विमान ​सी-17​ ग्लोबमास्टर ​से इस बांग्लादेशी दल को भारत लाया गया है​।​​ इस दल के साथ आये एक अधिकारी ने कहा कि पहली बार हमारी ​बांग्लादेश की टुकड़ी ​अपने ​ध्वज ​के साथ भारत के ​गणतंत्र ​दिवस की परेड में ​​हिस्सा लेने आई है​।​ ​रणनीतिक साझेदारी से आगे दोस्ती के 50 वर्षों पर गर्व​ करते हुए उन्होंने कहा कि हमने साथ में संघर्ष किया, साथ में मार्च​ करेंगे।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *