उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के अमर प्रजापति की उम्र महज 14 साल है लेकिन इस नन्हें उद्यमी ने तीन युवाओं को नौकरी दी है। छह महीने से भी कम समय में इस नन्हें उद्यमी ने करीब नौ लाख रुपये का कारोबार कर लिया है।

प्रशिक्षण देने वाले उद्यमी का कहना है कि इस रोजगार में कम से कम 30 प्रतिशत की बचत है। ऐसे में देखा जाए तो अमर ने मात्र छह महीने में दो लाख रुपये से भी ज्यादा की कमाई कर ली है। उन्होंने एक ऐसा टेबल लैंप बनाया है, जो एक बार चार्ज होने के बाद 12 घंटे तक चलता है।

दरअसल आरपीएम एकेडमी के कक्षा आठ में पढ़ने वाले छात्र अमर प्रजापति ने लॉकडाउन के दौरान कुछ नया सीखने के मकसद से गीडा में एलईडी लाइट बनाने की ट्रेनिंग ली। मात्र 14 साल के अमर ने एलईडी लाइट्स बनाने का प्रशिक्षण लेने के बाद खुद की कंपनी बनाई। नाम रखा जीवन प्रकाश इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड।

शुरुआत में तो अमर ने सहयोगी के रूप में अपने दूर के रिश्तेदार भाई को अपने साथ जोड़ा। इसके बाद धीरे-धीरे करके उन्होंने कुल तीन लोगों को अपने इस काम से जोड़ा। यह उत्पाद तैयार करने से लेकर मार्केटिंग में उनका सहयोग करते हैं। उन्होंने बताया कि उनकी कोशिश रहती है कि बेहतर से बेहतर उत्पाद बनाएं। उन्होंने एक चार्जिंग वाला बल्ब और एक चार्जेबल टेबल लैंप बनाया है।

टेबल लैंप की खासियत यह है कि एक बार चार्ज होने के बाद यह 12 घंटे तक प्रकाश देगा। जबकि सामान्य तौर पर बाजार में बिकने वाले ऐसे लैंप बमुश्किल एक से दो घंटे ही जल पाते हैं। वह अपना सारा माल अपने प्रशिक्षक विवेक सिंह की फैक्ट्री गीडा स्थित वीएन एनर्जी के जरिए मंगाते हैं। विवेक ने बताया कि अब तक अमर उनसे करीब नौ लाख रुपये का सामान खरीद चुका है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *