भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में शुक्रवार को पकड़े गए ‘पीपल्स लिबरेशन आर्मी’ (पीएलए) के सैनिक को आज वापस चीन को सौंप दिया है। आधिकारिक सूत्र ने सोमवार को यह जानकारी दी,यह चीनी सैनिक 8 जनवरी को गलती से वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पार कर के भारतीय सीमा में घुस आया था।

सूत्रों ने बताया कि भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में चुशूल-मोल्डो सीमा बिंदु पर पीएलए के सैनिक को सुबह 10 बजे चीन के हवाले कर दिया गया है।

भारतीय सेना ने शुक्रवार को वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पार कर पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग त्सो (झील) के दक्षिणी तट पर भारतीय भू-भाग एक चीनी सैनिक को दबोचा था। भारतीय सेना ने चीनी सैनिक को ऐसे समय में वापस लौटाया है, जब पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों की सेनाओं के बीच गत आठ महीने से गतिरोध जारी है। सेना ने बताया था कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का एक सैनिक एलएसी पार कर भारतीय सीमा में आ गया था। इसके बाद उसे वहां तैनात भारतीय सैनिकों ने हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उस सैनिक ने बताया कि वो रास्ता भटक गया था।

चीनी सेना ने सैनिक के पकड़े जाने की पुष्टि की
बीजिंग में चीनी सेना ने पुष्टि की थी कि उसका एक जवान चीन-भारत सीमावर्ती इलाकों में रास्ता भटक गया। पीएलए की आधिकारिक वेबसाइट में कहा गया कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी अग्रिम रक्षा बल का एक जवान अंधेरे और जटिल भौगोलिक स्थिति के कारण चीन-भारत की सीमा पर शुक्रवार तड़के रास्ता भटक गया। इस संबंध में भारत को सूचना दी गई है। भारतीय पक्ष लापता चीनी जवान की तलाश और उसे बचाने में मदद कर सकता है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *