विवादों से घिरे मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने फिर विवादित ट्वीट किया , हालांकि बवाल बढ़ता देख कर मन्नुवार राणा ने ट्वीट डिलीट कर दिया है । लेकिन इस ट्वीट की वजह से बवाल थमने का नाम नही ले रहा । इस ट्वीट में उन्होंने चंद पंक्तियों से संसद को गिराकर खेत बनाने की बात कही थी। हालांकि, विवाद बढ़ता देख उन्होंने ट्वीट को डिलीट कर दिया। बाद में उन्होंने कहा कि वे संसद की पुरानी इमारत को गिराकर खेत बनाने की बात कह रहे थे। मालूम हो कि मुनव्वर राणा देश के काफी मशहूर शायर हैं और उनकी कई शायरियां दुनियाभर में सुनी जाती हैं, लेकिन पिछले काफी समय से वे अपने बयानों पर घिरते रहे हैं।
मुनव्वर राणा अपने ट्विटर अकाउंट पर शायरी की पंक्तियां ट्वीट करते रहते हैं और पछले कुछ समय से उनको अपने हर ट्वीट पर सफाई भी देनी पड़ती है और बढ़ते बवाल की वजह से डिलीट भी करना पड़ता है । इसी तरह उन्होंने रविवार को भी एक ट्वीट किया, जिसपर हंगामा मच गया। राणा ने अपने ट्वीट में लिखा, ”इस मुल्क के लोगों को रोटी तो मिलेगी, संसद को गिराकर वहां कुछ खेत बना दो। अब ऐसे ही बदलेगा किसानों का मुकद्दर, सेठों के बनाए हुए गोदाम जला दो। मैं झूठ के दरबार में सच बोल रहा हूं, गर्दन को उड़ाओ, मुझे या जिंदा जला दो।” हालांकि, बाद में मुनव्वर राणा ने ट्वीट को डिलीट कर दिया ।

ट्वीट डिलीट करने के बाद पेश की सफाई
मशहूर शायर ने ट्वीट डिलीट करने के बाद सफाई भी पेश की। उन्होंने कहा कि जब नया संसद भवन बन रहा है तो पुरानी बिल्डिंग को गिरा देना चाहिए। वहां पर कुछ खेतों को बना देना चाहिए, जिससे किसानों को रोटी मिलेगी। इसमें कोई बुरी बात नहीं है। हालांकि राणा साहब की सफाई भी शिकायतों के साथ है , मुनव्वर राणा ने कहा, ”इस मुल्क में इमरजेंसी लगी हुई है कि जुबां खोलते ही शायर को गाली पड़ने लगती है। यह बात होने लगी कि डोनाल्ड ट्रंप ने जो किया, वह मुनव्वर राणा कर रहे हैं। लेकिन हमारी हैसियत ट्रंप जितनी नहीं है।” उन्होंने कहा कि रोजाना किसान खुदकुशी कर रहे हैं। इतने लोग मर गए। किसान अपना फायदा-नुकसान समझता है। सत्ता को इतनी जिद नहीं करनी चाहिए। मुनव्वर राणा ने आगे कहा कि मेरा पीएम मोदी से कोई विरोध नहीं है। मैं व्यक्तिगत तौर पर उन्हें पसंद करता हूं और सम्मान करता हूं। बात उसूलों की है। अगर शायर नहीं लिखेगा तो कौन लिखेगा। मैं बोलता हूं तो उसके बदले में काफी गालियां सुनने को मिलती हैं।

फ्रांस में हुए हमले पर भी दे चुके हैं विवादित बयान

मुनव्वर राणा ने कुछ समय पहले फ्रांस में हुए आतंकी हमले पर भी विवादित बयान दिया था। उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया में कहा था कि अगर कोई उनके माता-पिता या भगवान का गंदा कार्टून बनाता है, तब वे भी उसकी हत्या कर देंगे। मुनव्वर राणा ने कहा था, ”कोई हमारे माता-पिता या फिर भगवान का गंदा, आपत्तिजनक कार्टून बनाता है तो हम उसे मार देंगे। जब देश में हजारों साल से ऑनर किलिंग को जायज मान लिया जाता है और कोई सजा नहीं होती है तो फिर आप उसे नाजायज कैसे कह सकते हैं। पूरी दुनिया में यही हो रहा है।” वहीं, अपने बयान को लेकर चौतरफा घिरने के बाद राणा ने सफाई पेश की थी। उन्होंने कहा कि फ्रांस में जो कुछ भी हुआ, सब गलत हुआ। इस्लामी मजहब से छेड़छाड़ करने वाला कार्टून बनाना गलत था। शाहीन बाग आंदोलन के समय भी अवार्ड वापसी गैंग वाले शायर मन्नुवार राणा के कई विवादीद बयान आये थे जिसको लेकर पूरे देश में उनकी किरकिरी हुई थी ।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *