उत्तर प्रदेश के दौरे पर आए आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती को दो दिन पहले दिए एक विवादित बयान के मामले में रायबरेली से गिरफ्तार कर लिया गया है। रायबरेली गेस्ट हाउस में रविवार की रात गुजारने के बाद सुबह वह जैसे ही निकले तो पुलिस ने उनका रास्ता रोका, जिसके बाद उनकी पुलिसवालों से कहासुनी हुई। इस दौरान उन पर किसी ने स्याही फेंक दी। 

दरअसल, शनिवार को ‘आप’ विधायक सोमनाथ भारती ने  अमेठी  के जगदीशपुर में पार्टी कार्यकर्ता मीटिंग में  कहा था कि भाजपा सरकार में गुंडों का राज है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में बच्चे तो पैदा हो रहे हैं, लेकिन कुत्तों के बच्चे पैदा हो रहे हैं। उनके इस बयान पर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया था और इसी केस में उन्हें सोमवार को रायबरेली से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के बाद उन्हें फुरसतगंज थाने ले जाया गया। हालांकि, उसके बाद उन्हें कहां ले जाया गया इस बारे में पुलिस कुछ भी नहीं बता रही है।

सोमनाथ भारती का आरोप है कि सुबह भाजपा कार्यकर्ता गेस्ट हाउस पहुंच गए और जैसे ही निकले उन पर स्याही फेंक दी गई। आरोप के मुताबिक, हिंदू युवा वाहिनी और भाजपा कार्यकर्ताओं ने गेस्ट हाउस में हंगामा भी खूब किया। पुलिस ने किसी तरह स्थिति को संभाला। 

आदित्यनाथ सरकार की तानाशाही चरम पर है स्कूल,अस्पताल की बदहाली का सवाल उठाया तो आदित्यनाथ जी ने AAP नेताओं को आतंकित करना शुरू कर दिया पूर्व मंत्री व विधायक रायबरेली में भाजपाईयों ने हमला कर दिया और सोमनाथ को ही पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया

इसके बाद आप के सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में सरकार की तानाशाही चरम पर है। संजय ने कहा, ‘आप ने जब स्कूल, अस्पताल की बदहाली का सवाल उठाया तो AAP नेताओं को आतंकित किया गया है। पूर्व मंत्री व विधायक सोमनाथ भारती पर रायबरेली में भाजपाइयों ने हमला कर दिया और सोमनाथ को ही पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है। 

दूसरी तरफ, भाजपा प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने आप नेताओं के आरोप पर पलटवार करते हुए वीडियो ट्वीट किया है। वीडियो में सोमनाथ पुलिस को धमकाते हुए दिख रहे हैं। सोमनाथ कह रहे हैं कि अगर उन्हें स्कूल जाने से रोका गया तो वह अधिकारी की वर्दी उतरवा देंगे। एक दूसरे वीडियो में वह यह भी कहते हए दिख रहे हैं कि योगी (योगी आदित्यनाथ) की मौत निश्चित है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *