भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पूर्वी लद्दाख में तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। इस बीच दो दिन पहले भारतीय सीमा में चीन का एक सैनिक पकड़ा गया था। चीन ने अब भारत द्वारा पकड़े गए चीनी सैनिक की तत्काल वापसी का आह्वान किया है। सेना के आधिकारिक पीएलए डेली द्वारा संचालित एक समाचार पोर्टल चाइना मिलिट्री ऑनलाइन ने शनिवार को कहा कि पकड़ा गया चीनी सैनिक “अंधेरे और मुश्किल भूगोल” के कारण भटक गया था।

चीनी सेना ने कहा कि भारतीय सेना को दोनों देशों द्वारा किए गए प्रासंगिक समझौतों का सख्ती से पालन करना चाहिए। भारतीय सेना को खोए हुए सैनिक को वापस करने के लिए समय बर्बाद नहीं करना चाहिए, ताकि दोनों देशों के बीच सीमा तनाव को कम करने और संयुक्त रूप से शांति बनाए रखने के लिए सकारात्मक कारकों को जोड़ा जा सके।

बता दें कि पिछले करीब तीन महीने में ये इस तरह की दूसरी घटना है। यह जानकारी भारतीय आधिकारियों ने शनिवार को दी। भारतीय सेना ने एक बयान में कहा, ‘पीएलए के सैनिक ने एलएसी पार की थी और उसे इस क्षेत्र में तैनात भारतीय सैनिकों द्वारा हिरासत में ले लिया गया। चीनी सैनिकों के अभूतपूर्व जमावड़े और तैनाती के चलते गत साल टकराव के बाद दोनों ओर से सैनिक एलएसी के पास तैनात किये गए हैं।’

भारतीय सेना ने कहा, ‘पीएलए के पकड़े गए सैनिक के साथ तय प्रक्रियाओं के मुताबिक व्यवहार किया जा रहा है तथा इसकी जांच की जा रही है कि उसने किन परिस्थितियों में एलएसी पार की।’ इससे पहले भारतीय सैनिकों ने पिछले साल 19 अक्टूबर को पीएलए के कॉर्पोरल वांग या लांग को पकड़ा था ,जब वह लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में एलएसी पार करके भारत की सीमा में चला गया था। कॉर्पोरल को निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन किये जाने के बाद पूर्वी लद्दाख में चुशुल-मोल्डो सीमा बिंदु पर चीन को सौंपा गया था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *