देशभर में बर्ड फ्लू की दहशत के बीच हरियाणा के पंचकूला में पक्षियों के नमूनों में एवियन फ्लू (Avian flu) संक्रमण की पुष्टि हुई है और इसके बाद वहां पांच पोल्ट्री फार्मों में 1.60 लाख से अधिक पक्षियों को मारा जाएगा। हरियाणा के कृषि मंत्री जे.पी. दलाल ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

दलाल ने कहा कि विभाग ने पंचकूला के दो पोल्ट्री फार्मों से नमूने जांच के लिए भोपाल भेजे थे। उन्होंने कहा कि पंचकूला के रायपुरी रानी ब्लॉक में सिद्धार्थ पोल्ट्री फार्म के पांच नमूने जांच में एवियन फ्लू के ‘एच5एन 8 स्ट्रेन से संक्रमित पाए गए हैं। यह इंफ्लूएंजा वायरस है।

उन्होंने कहा कि इसी तरह गनौली गांव के नेचर पोल्ट्री फार्म के कुछ पंछियों के नमूनों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई, उसके बाद इन दोनों फार्मों के एक किलोमीटर के दायरे में पक्षियों को मारने की जरूरत उत्पन्न हुई।

मंत्री ने कहा कि केंद्र के दिशानिर्देशों के अनुसार, दोनों फार्मों के एक किलोमीटर के दायरे में पांच पॉल्ट्री फार्मों के 1,66,128 पक्षियों को मार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस काम के लिए 59 टीमें बनाई हैं और पोल्ट्री फार्मों के मालिकों को प्रति पक्षी 90 रुपये का हर्जाना दिया जाएगा।

राज्य सरकार ने दोनों ही पोल्ट्री फार्मों के एक किलोमीटर के दायरे वाले क्षेत्र को संक्रमित क्षेत्र घोषित किया है और 10 किलोमीटर तक के क्षेत्र को निगरानी वाला क्षेत्र बनाया है। दलाल ने कहा कि इन पोल्ट्री फार्मों के कर्मियों को भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांचा जाएगा और उन्हें वायरस निरोधक दवा दी जाएगी। 

उल्लेखनीय है कि पंचकूला के कुछ फार्मों पर पिछले कुछ दिनों में चार लाख से अधिक पक्षी मर चुके हैं। पंचकूला का बरवाला-रायपुर रानी क्षेत्र देश के सबसे बड़े पोल्ट्री क्षेत्रों में से एक है और यहां 100 से अधिक फार्मों पर 70-80 लाख पक्षी हैं। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *