श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में श्रीनगर और घाटी के कुछ अन्य इलाकों में शनिवार को नए सिरे से बर्फबारी हुई, जिससे यहां हवाई अड्डे पर विमानों का परिचालन बाधित हुआ. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि ताजा बर्फबारी तड़के शुरू हुई. इस सप्ताह की शुरुआत में लगातार चार दिन तक बर्फबारी हुई, जिससे बाद हर ओर बर्फ की चादर नजर आई. अधिकारियों ने बताया कि सुबह 8.30 बजे तक श्रीनगर में चार इंच बर्फबारी हुई.

कश्मीर में दो से पांच इंच तक हुई बर्फबारी

अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में कुलगाम में पांच इंच, अनंतनाग में तीन, शोपियां में तीन और पुलवामा में चार इंच बर्फबारी दर्ज की गई. उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा में दो इंच बर्फ गिरी वहीं मध्य कश्मीर के बडगाम और गांदेरबल जिलों में तीन इंच बर्फबारी हुई. अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर में गुलमर्ग के प्रसिद्ध स्की-रिजॉर्ट और दक्षिण में पहलगाम पर्यटन स्थल पर बर्फबारी की कोई खबर नहीं है.

उन्होंने बताया कि घाटी के कुछ अन्य इलाकों में बारिश भी हुई. मौसम विभाग के कार्यालय ने शनिवार को जम्मू कश्मीर में दूर-दराज के स्थानों पर बहुत हल्की बारिश या बर्फबारी होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया था. विभाग ने यह भी कहा था कि भारी मात्रा में बर्फबारी का पूर्वानुमान नहीं है और मौसम 14 जनवरी तक शुष्क रहने की संभावना है.

बर्फबारी के कारण उड़ाने भी बाधित

अधिकारियों ने कहा कि ताजा बर्फबारी के कारण हवाई यातायात प्रभावित हुआ और श्रीनगर हवाई अड्डे से विमान परिचालन नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि रनवे पर बर्फ जमा होने के कारण विमान संचालन में बाधा आ रही है और इससे कई उड़ानों में देरी हुई है. अधिकारियों ने कहा कि आज उड़ानों में देरी होने की संभावना है, वहीं कई उड़ाने रद्द भी की गई हैं.

भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय भी बंद

अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग सातवें दिन शनिवार को यातायात के लिए बंद रहा. उन्होंने कहा कि 260 किलोमीटर लंबा राजमार्ग इस सप्ताह की शुरुआत में भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण बंद हो गया था, जिसे शुक्रवार को साफ कर दिया गया और सबसे पहले फंसे हुए वाहनों को जाने की अनुमति दी गई लेकिन यहां अभी किसी नए यातायात को अनुमति नहीं दी गई है. अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *