राजधानी दिल्ली में बर्फीली और तेज रफ्तार हवाओं के चलते ठिठुरन बढ़ेगी। मौसम विभाग का अनुमान है कि रविवार के बाद से तीन दिनों तक बीस से पच्चीस किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। इससे जहां प्रदूषण साफ होगा, वहीं तापमान में दो डिग्री तक की कमी आएगी।

लगातार बारिश और बादल के चलते दिल्ली में पिछले चार दिनों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में इजाफा दर्ज किया गया था। गुरुवार के दिन न्यूनतम तापमान 14.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। लेकिन, आसमान साफ होने के चलते शुक्रवार की सुबह इसमें लगभग चार डिग्री से ज्यादा की कमी आई। दिल्ली के सफदरजंग मौसम केंद्र में सुबह का न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस रहा। यह अभी भी सामान्य से तीन डिग्री ज्यादा है। लेकिन, गुरुवार की तुलना में इसमें चार डिग्री से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, दिन का अधिकतम तापमान 16.9 डिग्री सेल्सियस रहा जोकि सामान्य से तीन डिग्री कम है। गुरुवार के दिन अधिकतम तापमान 19.9 डिग्री सेल्सियस रहा था। इस तरह से देखें तो अधिकतम और न्यूनतम दोनों ही तापमान में गिरावट आई है। दिल्ली का जफरपुर क्षेत्र सबसे ज्यादा ठंडा रहा। यहां पर दिन का अधिकतम तापमान 14.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

कुछ जगहों पर बूंदाबांदी

दिल्ली के कुछ हिस्सों में शाम के समय बूंदाबांदी हुई है। मौसम विभाग का अनुमान है कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से रात के समय भी कुछ जगहों पर बूंदाबांदी होने की संभावना है। हालांकि, ज्यादा बरसात होने के आसार नहीं है। लेकिन, बादलों के छाए रहने से न्यूनतम तापमान में थोड़ा इजाफा होगा। शनिवार की सुबह न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना जताई गई है।

रविवार से चलेंगी तेज हवाए
मौसम विभाग का अनुमान है कि रविवार से हवा की रफ्तार में इजाफा होगा। रविवार के दिन भी हवा की रफ्तार 16 किलोमीटर प्रति घंटे तक रह सकती है। जबकि, सोमवार, मंगलवार और बुधवार के दिन हवा की रफ्तार 20 से 25 किलोमीटर तक रहने का अनुमान है। इसके चलते मौसम में ठिठुरन बढ़ सकती है। इस दौरान अधिकतम तापमान 16 और न्यूनतम तापमान आठ डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *