जनवरी महीने के पहले हफ्ते में दिल्ली के मौसम का मिजाज बदला हुआ है। खासतौर पर बीते तीन दिनों से रुक-रुककर दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में बरसात हो रही है। बुधवार की सुबह दिल्ली के कुछ हिस्सों बारिश के साथ ओले गिरे। राजधानी से सटे गुरुग्राम में भी बारिश के साथ ओले पड़े। इस बारिश और ओलावृष्टि से दिल्ली में सर्द हवाओं में तेजी आई है और ठिठुरन बढ़ गई है।

भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने अपने सुबह के बुलेटिन में राष्ट्रीय राजधानी और पड़ोसी क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ गरज के साथ छींटे पड़ने की भविष्यवाणी की थी। आईएमडी की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया है कि बुधवार को दिल्ली, गोहाना, गन्नौर, कर्नल, पानीपत, फरीदाबाद, बल्लभगढ़ (हरियाणा), दादरी, गुलेठी, पिलखुआ, हापुड़, शामली, संभल, अमरोहा, मुरादाबाद (यू.पी.) मीम, गोहाना, गन्नौर, करनाल, पानीपत, पलवल, चरखादरी, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, रोहतक (हरियाणा), ग्रेटर नोएडा, नोएडा, दादरी, सिकंद्राबाद, गुलोठी, पिलखुआ, हापुड़, मुजफ्फरनगर, बिजनौर समेत यूपी और हरियाणा के कुछ शहरों में बारिश होने का अनुमान है।

तीन दिन में बरसा सामान्य से दोगुना पानी
दिल्ली में बीते तीन दिनों में ही जनवरी महीने में सामान्य तौर पर होने वाली बरसात से दोगुना पानी बरस चुका है। दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सोमवार की रात और मंगलवार दिन में बरसात हुई। सफदरजंग केन्द्र में सुबह साढ़े आठ बजे तक 4.7 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई। जबकि, दिन में भी 1.3 मिलीमीटर बरसात हुई। दिल्ली के पालम, लोधी रोड, रिज आदि मौसम केन्द्र में भी अच्छी बरसात हुई है। 

कल बढ़ सकता है प्रदूषण
केंद्र द्वारा संचालित संस्था सफर का अनुमान है कि हवा की दिशा में बदलाव के चलते अगले दो दिनों में प्रदूषण के स्तर में इजाफा हो सकता है। बुधवार को हवा मध्यम से खराब स्तर पर रहने की संभावना है। जबकि, गुरुवार को यह फिर से खराब या बेहद खराब श्रेणी में पहुंच सकती है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *