झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर हमले को लेकर डीजीपी एमवी राव ने काफी सख्‍त तेवर दिखाए हैं। डीजीपी ने कहा कि दोबारा यदि किसी ने ऐसा कि तो मौके पर ही हाथ पैर तोड़ दिया जाएगा। डीजीपी ने कहा कि यह हमला सुनियोजित साजिश थी। ऐसे लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। कड़ा सबक सिखाया जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि झारखंड में गुंदागर्दी नहीं चलने दी जाएगी। सीएम के काफिले पर हमले की घटना में शामिल लोगों को तलाश कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी बख्‍शा नहीं जाएगा। डीजीपी ने कहा कि जो जिस तरह से वह पेश आएगा उसे उसी के अंदाज में जवाब दिया जाएगा। जो कानुन का उल्‍लंघन करेंगे उनको कोई भी ताकत बचा नहीं पाएगी।

गौरतलब है कि झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के काफिले पर सोमवार को कुछ लोगों ने पथराव कर दिया था। भीड़ ने सीएम के काफिले की पेट्रोलिंग कार के शीशे भी तोड़ दिए थे। सुरक्षाकर्मियों ने किसी तरह रूट बदलकर सीएम उनके आवास तक पहुंचाया। दरअसल, रविवार को ओरमांझी में एक युवती का सिर कटी लाश मिली थी। लड़की के शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। इसी को लेकर रांची के किशोरगंज चौक पर कुछ हिंदू संगठन प्रदर्शन कर रहे थे। इस बीच ही सीएम का काफिला प्रोजेक्ट भवन से कांके रोड आवास की ओर जा रहा था। तभी भीड़ ने उस पर हमला कर दिया। हमले में ट्रैफिक इंस्पेक्टर नवल किशोर प्रसाद को गंभीर चोटें आईं। उन्‍हें रांची के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *