जम्मू कश्मीर के कुलगाम में भारी बर्फ़बारी के बीच हिमस्खलन की चेतावनी दी गयी है | सुरक्षा बालों ने बुधवार को कुलगाम के हिमस्खलन की आशंका वाले क्षेत्र में 22 परिवारों को निकाला और उन्हें सुरक्षित स्थान पर पंहुँचाते हुए दक्षिण कश्मीर जिले के एक स्कूल में ठहराया गया है |

अधिकारियों ने बताया कि क्षेत्र में हिमस्खलन की चेतावनी के मद्देनजर मैरिसल नाला कुंड के 22 परिवारों को निकाला गया और सरकारी मिडिल स्कूल में ठहराया गया। उन्होंने कहा कि जीवन को किसी भी नुकसान से बचाने के लिए हर एक एहतियाती कदम उठाये जा रहे है।

जम्मू और कश्मीर आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीएमए) ने जम्मू और कश्मीर के कई क्षेत्रों के लिए मध्यम और निम्न स्तर के हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है।

इस संबंध में प्राप्त एक विज्ञप्ति के अनुसार, पुंछ, राजौरी, रामबन, डोडा, किश्तवाड़, अनंतनाग, कुलगाम, कुपवाड़ा और बांदीपोर जिलों के ऊँचे इलाकों के लिए मध्यम स्तर के हिमस्खलन की चेतावनी जारी की गई है, इसके अलावा वॉल्टेंग नाद के दक्षिण और जवाहर सुरंग के दक्षिण और उत्तर के पोर्टलों को भी शामिल किया गया है। वेरीनाग, कापरान, चौकीबल-एनसी दर्रा, गुरेज़, डावर और नीरू क्षेत्र को हिमस्खलन प्रभावित होने का खतरा है | मौसम विभाग ने स्थानीय लोगो के लिए चेतावनी जारी करते हुए इधर उधर नहीं घूमने की सलाह दी है |

इसी तरह, उधमपुर, बारामूला, गांदरबल, सोनमर्ग – ज़ोजिला, जेड-गली- कलारोज़, कन्ज़लवान, तंगमारग और गुलमर्ग की ऊपरी इलाकों के लिए निम्न स्तर के हिमस्खलन की चेतावनी जारी की गई है। हिमस्खलन प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को जानमाल के नुकसान से बचने के लिए घर में ही रहने की सलाह दी गयी है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *