कोरोना वायरस की वैक्सीन आने पर थोड़ी राहत की खबर मिली थी, लेकिन अब एक नया संकट लोगों की टैंशन बढ़ा रहा है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब और हिमाचल प्रदेश के साथ ही केरल भी अब बर्ड फ्लू की चपेट में आ गया है। केरल ने इसे राजकीय आपदा तक घोषित कर दिया है। इसे देखते हुए राज्य सरकारों ने अलर्ट जारी करने के साथ ही स्थिति पर काबू पाने के लिए सक्रियता बढ़ा दी है।मध्य प्रदेश के मंदसौर और कर्नाटक के बंगलुरु में चिकन और अंडे के शॉप फिलहाल बंद रहेंगे।  

मध्यप्रदेश में कौवों की मौत के बाद अलर्ट जारी 
इंदौर में मरे हुए कौवों में घातक वायरस पाए जाने के बाद मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य में बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी किया है। मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग ने प्रदेश के सभी जिलों को सतर्क रहने तथा किसी भी प्रकार की परिस्थिति में कौवों और पक्षियों की मृत्यु की सूचना पर तत्काल रोग नियंत्रण के लिए भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। विभाग की तरफ से बताया गया कि प्रदेश में 23 दिसंबर से 3 जनवरी 2021 तक इंदौर में 142, मंदसौर में 100, आगर-मालवा में 112, खरगोन जिले में 13 और सीहोर में 9 कौवों की मृत्यु हुई है।

हिमाचल प्रदेश में भी बर्ड फ्लू की पुष्टि 
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित पोंग बांध झील में मृत पाए गए प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गए हैं। राजस्थान, मध्यप्रदेश एवं केरल के बाद देश में हिमाचल प्रदेश चौथा ऐसा राज्य बन गया है जहां बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। झील अभयारण्य में अब तक करीब 1800 प्रवासी पक्षी मृत पाए गए हैं। इस बीच कांगड़ा के जिलाधिकारी राकेश प्रजापति ने जिले के फतेहपुर, देहरा, जवाली और इंदौरा उप मंडल में मुर्गी, बत्तक, हर प्रजाति की मछली और उससे संबंधित उत्पादों जैसे अंडे, मांस, चि​कन आदि की ब्रिकी पर प्रतिबंध लगा दिया है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *