सिगरेट सेहत के लिए कितनी हानिकारक है, यह बात धूम्रपान के शौकीनों से भी नहीं छिपी है। बावजूद इसके वे खुद को सिगरेट का कश लगाने से नहीं रोक पाते। अब ब्रिटेन स्थित लॉयड फार्मेसी के हालिया अध्ययन में पांच मिनट की चहलकदमी को सिगरेट की तलब शांत करने में असरदार करार दिया गया है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक शारीरिक सक्रियता न सिर्फ सिगरेट से ध्यान भटकाती है, बल्कि ‘फील गुड’ हार्मोन ‘एंडॉर्फिन’ के स्त्राव को भी बढ़ावा देती है। इससे व्यक्ति को निकोटीन से मिलने वाले सुकून की अनुभूति होती है, वो भी सिगरेट के धुएं का छल्ला उड़ाए बगैर। 

मुख्य शोधकर्ता अंशू कौड़ा की मानें तो कसरत सिगरेट की लत से निजात पाने का बेहतरीन जरिया साबित हो सकती है। यह पसंदीदा वस्तु की तलब घटाने वाले रसायनों के उत्पादन में तेजी लाने में भी कारगर मिली है। कौड़ा के अनुसार सिगरेट से दूरी बनाने पर व्यक्ति को चिड़चिड़ेपन की शिकायत सता सकती है। 

शरीर को निकोटीन की दरकार होना इसकी मुख्य वजह है। चूंकि, चहलकदमी या फिर स्ट्रेचिंग से जुड़ी एक्सरसाइज ‘एंडॉर्फिन’ का स्तर बढ़ाने में कारगर है और यह हार्मोन मन को वैसे ही सुकून की अनुभूति कराता है, जैसा कि निकोटीन के सेवन से मिलता है, इसलिए सिगरेट की लत पर काबू पाने के लिए कसरत की मदद लेना तथा मन को रचनात्मक कार्यों में रमाना खासा असरदार साबित हो सकता है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *